उत्तर प्रदेश के हॉस्पिटल में लड़की के शव नोचता दिखा आवारा कुत्ता, वीडियो वायरल

उत्तर प्रदेश के अस्पताल में लड़की के शव नोचता दिखा आवारा कुत्ता

उत्तर प्रदेश के संभल के सरकारी अस्पताल से एक हृदय विदारक घटना सामने आई है। यहां एक 20 सेकंड का वीडियो वायरल हो रहा है। इस वीडियो में यह दिख रहा था कि अस्पताल में स्ट्रेचर पर रखे एक लड़की के शव को कुत्ता नोंच कर खा रहा था। 

यूपी के संभल से आया झकझोर देने वाला वीडियो, अस्पताल में स्ट्रेचर पर रखे  लड़की के शव को नोचता दिखा कुत्ता

इस हृदयविदारक और परेशान करने वाला दृश्य को देखकर अस्पताल में मौजूद लोगों के रोंगटे खड़े हो गए। कुछ लोगों ने मोबाइल से वीडियो बना लिया। वहीं इस मामले में अस्पताल प्रशासन ने भी कार्रवाई करते हुए स्वीपर और वार्ड ब्वॉय को अनदेखी और गैर जिम्मेदारी के आरोप में  चीफ मेडिकल ऑफिसर अमिता सिंह ने सस्पेंड कर दिया  है। उन्होंने इसके साथ इस आश्वासन दिया है कि दोषियों पर कठोर कार्यवाही की जाएगी।

पिता ने अस्पताल प्रशासन पर लगाया आरोप

जानकारी के मुताबिक संभल के हसनपुर कला थाना डिडौली में बीते दिन सड़क हादसा हुआ था। जिसमें 13 वर्षीय रिंकी की मौत हो गई जबकि उसका भाई पवन गंभीर रूप से घायल हो गया था। यह  हादसा उस समय हुआ जब भाई-बहन बाइक से पेट्रोल लेने के लिए जा रहे थे।

जिसके बाद बच्ची के शव को अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड के पास सीढ़ियों के नीचे स्ट्रेचर पर रखा गया था। स्ट्रेचर पर रखे  शव  के पास कोई मौजूद नहीं था। तभी वहां पर घूम रहा आवारा कुत्ता शव के पास पहुंच गया। और फिर वह  चादर में ढके शव को खींचकर नोचने लगा।


और पढ़ें :सर्वोच्च न्यायालय ने दिया निर्देश लंबित ज़मानत याचिकाओं की समस्या का समाधान जल्द हो


अस्पताल ने आवारा कुत्तों की समस्या बताई

अस्पताल प्रशासन का कहना है कि चूंकि लड़की का परिवार पोस्टमार्टम रिपोर्ट नहीं चाहता था इसलिए अंतिम संस्कार के लिए लाश उन्हें सौंप दी गई थी और वे लोग इसे ले जा रहे थे। उन्होंने इसे कुछ देर के लिए छोड़ा होगा तभी ये घटना हुई।

Dog Bite The Body Of A Girl In Sambhal Hospital - Shocking: हॉस्पिटल में  लड़की के शव को नोचकर कुत्तों ने खाया, सीएमओ ने दिए जांंच के आदेश | Patrika  News

अस्पताल प्रशासन का यह भी  कहना है कि आवारा कुत्तों की यहां समस्या है। अस्पताल के मुताबिक उन्होंने इस संबंध में स्थानीय प्रशासन को कई बार शिकायती पत्र लिखा है। लेकिन अब तक कुछ नहीं हुआ। 

उत्तर प्रदेश से ही एक और लापरवाही की खबर सामने आई

उत्तर प्रदेश से ही एक और लापरवाही की खबर सामने आई है जहां एक प्राइवेट अस्पताल को सील कर दिया गया है। नवजात के पिता का आरोप है की अस्पताल की लापरवाही से ही चली गई उनकी बेटी की जान।

पीड़ित राजेश कुमार ने पत्रकारों से बातचीत में बताया कि उनकी पत्नी ने 22 नवंबर को कीर्ति अस्पताल में एक बेटी को जन्म दिया था इसके बाद नर्सेज उसे लेकर चली गई और करीब एक घंटे बाद मौत की खबर दी। नवजात के शव पर चूहों के काटने का भी निशान है।

डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट ने घटना का संज्ञान लेते हुए दिया जांच का आदेश

डीएम चंद्रभूषण सिंह ने कहा कि उन्हें अस्पताल में लापरवाही के सबूत मिले है। अस्पताल को 5 बेड की अनुमति है लेकिन उन्हें 11 बेड मिली है और दो रूम में ताले लगे मिले है। वहीं अलीगढ़ के चीफ मेडिकल ऑफिसर ने बताया कि अस्पताल का लाइसेंस रद्द करते हुए उन्हें सील कर दिया गया है।

निष्पक्ष और जनहित की पत्रकारिता ज़रूरी है

आपके लिए डेमोक्रेटिक चरखा आपके लिए ऐसी ग्राउंड रिपोर्ट्स पब्लिश करता है जिससे आपको फ़र्क पड़ता है
हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.