दहेज़ के मामले में मदद मांगने गई महिला से हुआ रेप

महिला दहेज़ के मामले पर मदद मांगने गयी 

उत्तर प्रदेश से फ़िर एक बार बेहद ही शर्मनाक ख़बर सामने आ रही है। जहां एक महिला दहेज़ के मामले पर मदद मांगने  जाती है और अधिकारी द्वारा दुष्कर्म का शिकार होती है। हर व्यक्ति को अपने देश के क़ानून व्यवस्था पर भरोसा होता है। लेकिन अगर आप अपने देश में क़ानून के पास भी मदद मांगने में सुरक्षित महसूस न करें तो आप सोच सकते हैं कि स्थिति कितनी भयंकर हो गई है।

उत्तर प्रदेश दहेज़

यह घटना उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर की है। जहां के पुलिस अधिकारी ने शुक्रवार को बताया है कि एक महिला द्वारा आरोप लगाया गया है कि उसके साथ एक उप-निरीक्षक द्वारा दो बार बलात्कार किया गया है एवं संपूर्ण घटना का वीडियो भी बनाया गया है।

उत्तर प्रदेश के उस अधिकारी के स्थानांतरण की सिफारिश

उत्तर प्रदेश दहेज़

बता दें कि इस पूरे मामले पर पुलिस अधीक्षक एस आनंद ने कहा कि महिला ने आरोप लगाया कि जब वह 8 जनवरी को शाहजहांपुर से लौट रही थी तब जलालाबाद पुलिस स्टेशन में तैनात सब-इंस्पेक्टर (एसआई) उसे एक एकांत स्थान पर ले जाते हैं और दूसरी बार उस महिला का बलात्कार करते हैं। इतना ही नहीं महिला ने बताया कि उस अधिकारी ने उन्हें धमकी भी दिया है कि वह इस मामले को आगे न बढ़ाए और अगर वो मुद्दे को आगे ले जाती है तो उसका वीडियो सार्वजनिक कर दिया जायगा। जानकारी के मुताबिक़ गुरुवार को पहली सूचना रिपोर्ट यानी एफआईआर दर्ज की गई है। एसपी ने इस मामले पर कहा कि उप-निरीक्षक के स्थानांतरण की सिफारिश की गई है और महिला के आरोप की जांच अभी जारी  है।


और पढ़ें :सुप्रीम कोर्ट ने कृषि मसला सुलझाने की रणनीति तैयार की


पति के खिलाफ दहेज़ के एक मामले के दौरान हुई उस अधिकारी से भेंट

उत्तर प्रदेश दहेज़

ग़ौरतलब है कि महिला ने इस बीच दावा किया है कि उसने पहली बार 2 सितंबर, 2020 को उस अधिकारी के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई थी जब वह अधिकारी कलंदर पुलिस स्टेशन में तैनात था। महिला ने बताया कि वह अपने पति के खिलाफ दहेज के एक मामले के दौरान उप-निरीक्षक के संपर्क में आई थी। पुलिस ने बताया  कि सितंबर 2020 में महिला द्वारा दर्ज की गई एफआईआर के बारे में एक अंतिम रिपोर्ट दायर की गई थी एवं महिला 8 जनवरी 2021 को अपनी विरोध याचिका दायर करने के लिए शाहनपुर गई थी। पुलिस ने आगे बताया कि जब महिला शाहजहांपुर से लौट रही थी तब अधिकारी ने उसके साथ बलात्कार किया है।

निष्पक्ष और जनहित की पत्रकारिता ज़रूरी है

आपके लिए डेमोक्रेटिक चरखा आपके लिए ऐसी ग्राउंड रिपोर्ट्स पब्लिश करता है जिससे आपको फ़र्क पड़ता है
हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.