कोरोना काल में फूल बरसाने के बाद बिहार के जूनियर डॉक्टर हड़ताल को मजबूर क्यों हैं?

कोरोना काल में डॉक्टर्स के लिए फूल बरसाए गए और तालियां बजवाई गयीं लेकिन आज के समय में बिहार के जूनियर डॉक्टर्स मानदेय नहीं मिल पाने के कारण हड़ताल करने को मजबूर हैं लेकिन फिर भी सरकार के तरफ़ से किसी ने भी वार्ता करना भी ज़रूरी नहीं समझा. देखें अनुप्रिया की रिपोर्ट.

निष्पक्ष और जनहित की पत्रकारिता ज़रूरी है

आपके लिए डेमोक्रेटिक चरखा आपके लिए ऐसी ग्राउंड रिपोर्ट्स पब्लिश करता है जिससे आपको फ़र्क पड़ता है
हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.