कोरोना काल के दौरान प्रधानमंत्री का राष्ट्र के नाम सातवीं बार संबोधन

प्रधानमंत्री ने ” जब तक दवाई नहीं, तब तक ढिलाई नहीं” का दिया संदेश

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  के ट्वीट के बाद की वह आज साम 6 बजे राष्ट्र को संबोधित करेंगे तब से ही  से ही लोगो में काफी उत्सुकता थी, प्रधानमंत्री देशवासियों से क्या साझा करने वाले है इस बात को लेकर लोग तरह तरह के अटकलें लगा रहे थे। किसी को कोरोना  वैक्सीन से जुड़ी कोई अच्छी खबर की, तो कोई चीन सेे  जुड़ी  बात की अटकलें लगा रहे थें।

PM Modi Speech Today

लेकिन शाम के 6 बजते ही इन सभी अटकलों पर विराम लग गया। प्रधानमंत्री ने करीब 13 मिनट तक देश को संबोधित क़िया उन्होंने  में अपने संबोधन देशवासियों को सभी त्योहारों की शुभकामाएं के साथ – साथ संदेश दिया की त्योहार के उत्साह में कोराना को हल्के में नहीं लेना है और पूरी सावधानी बरतना हैं।


और पढ़ें :बिहार चुनाव में चिराग पासवान ने मुख्यमंत्री नीतिश कुमार पर निशाना साधा कहा कुर्सी के खेल में पिछले 5 साल से साहब ने बिहारियों को बर्बाद किया


प्रधानमंत्री ने कहा लॉकडाउन गया है वायरस नहीं

prime-minister-narendra-modi-to-address-nation-6-pm-on-tuesday - पीएम नरेंद्र मोदी शाम 6 बजे करेंगे राष्ट्र को संबोधित, ट्वीट कर दी जानकारी | India News in Hindi

पीएम ने देशवासियों  को जनता  कर्फ्यू से लेकर आज के समय की याद दिलाते हुए कहा कि कोरोना से लड़ाई अभी भी खत्म नहीं हुई है। भारत में कोरोना के मरीजों की रिकवरी रेट बेहतर है और मृत्यु दर में भी गिरावट दर्ज हो रही है। लेकिन अभी भी वायरस खत्म करने के लिए कोई स्थाई हल नहीं निकला है इसलिए लापरवाही बिल्कुल नहीं बरतना हैं।

प्रधानमंत्री ने आगे कहा संपन्न देशों कि तुलना में भारत की स्थिति बेहतर

प्रधानमंत्री ने भारत में कोरोना के मरीजों की संख्या की तुलना अमेरिका और ब्राजील जैसे देशों से करते हुए जानकारी दिया कि जहां भारत में प्रति 10 लाख लोगो में 5 हजार लोगों को कोराना हुआ है वहीं अमेरिका और ब्राजील जैसे देशों में यह आंकड़ा 25 हजार के करीब हैं।

Prime Minister Narendra Modi Speech Highlights: Don't take COVID-19 lightly till vaccine is available: PM Modi cautions nation ahead of festive season - cnbctv18.com

भारत में प्रति 10 लाख लोगों में जहां 83 लोगो की मृत्यु हुई है, वहीं अमेरिका , स्पेन आदि देशों में यह संख्या लगभग 600 के पार हैं।

पीएम ने कहा कोराना के मरीजों की इलाज के लिए भारत में प्रयाप्त व्यवस्था

पीएम ने कोरोंना से लड़ाई के लिए सरकार द्वारा कि गए तैयरियों की जानकारी देते हुए बताया कि, मरीजों के लिए 12 लाख से ज्यादा बेड कि सुविधा की गई है, 12 हजार से ज्यादा क्वारांटाइन सेंटर उपलब्ध, 2 हजार से ज्यादा कोवीड टेस्टिंग सेंटर काम कर रहे है और टेस्टिंग की संख्या 10 करोड़ के पार  पहुंचने वाली है। टेस्टिंग  इस लड़ाई में एक महत्त्वूर्ण हथियार है जिसकी ओर हम तेजी से बढ़  रहे हैं।

Prime minister Narendra Modi says, Our Scientists Making All Efforts To Develop corona Vaccine - कोरोना वैक्‍सीन विकसित करने में जीजान से जुटे हैं हमारे वैज्ञानिक : पीएम मोदी | India News in ...

पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि हाल के दिनों में हमे कई ऐसे विडियो और तस्वीरें देखी है, जिसमें लोगो की लापरवाही साफ नजर आ रही है। उन्होंने नसीहत देते हुए कहा कि बिना मास्क के निकलने वाले लोग ना सिर्फ खुद को बल्कि अपने परिवार को भी खतरे में डाल रहे हैं। इसलिए जब तक इस महामारी की वैक्सीन नहीं आ जाती हमे लापरवाही नहीं करनी हैं।

वैक्सीन बनने के बाद सभी लोगो तक इसे पहुंचाने के लिए की जा रही पूरी  व्यवस्था

पीएम ने जानकारी साझा करते हुए बताया कि दुनिया के कई देश साथ मिलकर मानवता की भलाई के लिए युद्धस्तर पर वैक्सीन  खोज में लगे हैं। भारत में भी  कई वैक्सीन पर काम चल रहा है और जल्द ही हमे इसमें कामयाबी मिलेगी। उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि अतिआत्मविश्वास सारा काम खराब कर सकती है इसलिए  दवाई आने तक लापरवाही नहीं बरतना है।

Modi speech at UNGA 2020 Highlights: PM UN General Assembly Speech Today | The Financial Express

त्योहार का समय उल्लास और खुशियों से भरी होती है लेकिन इस मुश्किल वक्त में जरा भी लापरवाही इसमें बाधा डाल सकती है। उन्होंने मीडिया  से भी लोगो में जागरूकता लाने के लिए साथ आने केलिए प्रेरित क़िया।

निष्पक्ष और जनहित की पत्रकारिता ज़रूरी है

आपके लिए डेमोक्रेटिक चरखा आपके लिए ऐसी ग्राउंड रिपोर्ट्स पब्लिश करता है जिससे आपको फ़र्क पड़ता है
हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.