बेटे द्वारा पिता के नाम पुछने पर 27 साल पहले हुए गैंगरेप का खुलासा, 2 के खिलाफ केस दर्ज़

बेटे द्वारा पिता के नाम पुछने पर 27 साल पहले हुए गैंगरेप का खुलासा

उत्तर प्रदेश के शाहजहाँपुर में एक मामला सामने आया है जहां 27 साल पहले 12 साल की उम्र में एक लड़की के साथ दो व्यक्तियों द्वारा कई मौकों पर गैंगरेप किया गया था जिसके बाद वह माँ बन गई थी। उसने अब अपने बेटे द्वारा पिता के नाम के बारे में पूछताछ करने पर आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज़ कराया है।

गैंगरेप के वक़्त सिर्फ 12 वर्ष की थी पीड़िता

friendship with female colleague while on duty in office know what happened then | कार्यालय में ड्यूटी के दौरान महिला सहकर्मी के साथ हुई दोस्ती, जानें फिर क्या किया | Hari Bhoomi

पुलिस अधीक्षक (नगर) संजय कुमार ने शनिवार को बताया कि करीब 27 वर्ष पहले किशोरी अपनी बहन और बहनोई के घर शाहजहांपुर में रहती थी। इस दौरान उसी मोहल्ले में रहने वाला नाकी हसन एक दिन उसके घर में घुस आया और उसने किशोरी से दुष्कर्म किया।

पुलिस अधिकारी ने महिला द्वारा दर्ज़ कराई गई शिकायत के आधार पर बताया कि हसन के बाद उसके छोटे भाई गुड्डू ने भी किशारी के साथ रेप किया। पीड़िता ने आरोप लगाया है कि आरोपियों ने कई बार उसके साथ दुष्कर्म किया। कुमार ने बताया कि उस वक्त पीड़िता की उम्र 12 साल थी।

शिक़ायत में पीड़िता ने बताया 13 वर्ष में हो गई थी गर्भवती

Four Man Gangrape With Pregnant Woman In Up - प्रेग्नेंट के साथ लगातार होता रहा गैंगरेप, फिर हुआ कुछ ऐसा | Patrika News

महिला ने अपनी शिक़ायत में कहा कि 13 साल की उम्र में वह गर्भवती हो गई थी और 1994 में उसने एक बच्चे को जन्म दिया था। इस बच्चे को शाहाबाद क्षेत्र के उधमपुर गांव के एक व्यक्ति को दे दिया गया।

शिकायतकर्ता के अनुसार वह 13 साल की उम्र में गर्भवती हो गई और 1994 में एक लड़के को जन्म दिया। इसी बीच पीड़िता के बहनोई का ट्रांसफर रामपुर जिले में हो गया और किशोरी भी उनके साथ चली गई।


और पढ़ें :अस्पताल में फीस न भरने पर ऑपरेशन के बाद खुला छोड़ा जख्म, बच्ची की हुई मौत


रेप के बारे में पता चलने के बाद पति भी दे चुका है तलाक़  

तीन तलाक़ पर बीजेपी कहे चाहे जो लेकिन सुप्रीम कोर्ट से उसे मायूसी ही मिली | Mukesh Opine

पुलिस अधिकारी ने बताया कि बहनोई ने किशोरी की शादी गाजीपुर जिले के एक व्यक्ति के साथ करा दी परंतु 10 वर्ष बाद जब उसके पति को रेप की घटना का पता चला तो उसने अपनी पत्नी को तलाक दे दिया। इसके बाद महिला अपने गांव आकर रहने लगी। 

कुमार ने बताया कि अब तक महिला का बेटा बड़ा हो गया था और उसने अपने माता पिता के बारे में जानना चाहा तो उसे उसकी मां का नाम बता दिया। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि इसके बाद बेटे ने अपनी मां से मुलाकात की और उसे पूरी घटना की जानकारी मिली।

पीड़िता के बेटे का होगा डीएनए टेस्ट

महिला की शिकायत पर सदर बाजार पुलिस थाने में 2 लोगों के खिलाफ सामूहिक बलात्कार का मामला दर्ज किया गया है। कुमार ने बताया कि पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है तथा पीड़िता के बेटे का डीएनए टेस्ट कराया जाएगा। पुलिस द्वारा महिला की शिक़ायत पर ध्यान नहीं देने पर उसने अदालत का दरवाजा खटखटाया था। 

निष्पक्ष और जनहित की पत्रकारिता ज़रूरी है

आपके लिए डेमोक्रेटिक चरखा आपके लिए ऐसी ग्राउंड रिपोर्ट्स पब्लिश करता है जिससे आपको फ़र्क पड़ता है
हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.