घटते जीडीपी पर भड़के भाजपा नेता, डेमोक्रेटिक चरखा के पत्रकार को दे डाली खुली धमकी

घटते जीडीपी पर भड़के भाजपा नेता, डेमोक्रेटिक चरखा के पत्रकार को दे डाली खुली धमकी. क्या ऐसे में पत्रकार अपना काम ढंग से कर पाएंगे? पत्रकारों का काम होता है सवाल करना लेकिन इस सवाल के बदले धमकी कितनी सही है?

निष्पक्ष और जनहित की पत्रकारिता ज़रूरी है

आपके लिए डेमोक्रेटिक चरखा आपके लिए ऐसी ग्राउंड रिपोर्ट्स पब्लिश करता है जिससे आपको फ़र्क पड़ता है
हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.