बिहार के छात्र-नौजवानों का जत्था चंपारण के रास्ते दिल्ली रवाना

छात्र-नौजवानों का जत्था चंपारण के रास्ते दिल्ली रवाना

किसान आंदोलन के समर्थन में बिहार के छात्र-नौजवानों का जत्था चंपारण के रास्ते दिल्ली रवाना हो गया हैं। पटना में शहीद भगत सिंह चौक से एआईएसएफ एवं एआईवाईएफ के बैनर तले जत्था निकला। इस दौरान मौके पर मौजूद एआईएसएफ के राष्ट्रीय सचिव सुशील कुमार एवं एआईवाईएफ के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य सुधीर कुमार ने कहा कि देश के किसान देश बचाने एवं आम जनता के हक में लड़ाई लड़ रहे हैं लेकिन केन्द्र की सरकार किसानों की बात सुनने की बजाए कारपोरेट घरानों के पक्ष में काम कर रही है।

दिल्ली रवाना


और पढ़ें :असुरक्षित तरीके से यात्रा करने को विवश श्रमिक और उनके परिवार


किसानों ने जब तय कर लिया है कि तीन कृषि क़ानूनों की विदाई नहीं तब तक कोई ढिलाई नहीं। कड़ाके की सर्दी में देश के किसान सड़कों पर बैठने को विवश हैं। छात्र-युवा नेताओं ने बताया कि गाँधी जी ने चंपारण से दांडी यात्रा शुरू कर अंग्रेजी हुकूमत को उखाड़ने का काम किया था। 21 जनवरी को एआईएसएफ एवं एआईवाईएफ के बैनर तले यात्रा पश्चिम चंपारण के वृंदावन आश्रम से शुरू होगी। इस मौके पर एआईवाईएफ के राज्य सह सचिव शंभू देवा, अक्षय कुमार, पूजा कुमारी, तौसीक आलम, जितेन्द्र भास्कर, आदित्य, कुंदन कुमार, रविशंकर प्रसाद, अनिमुल हसन, उत्तम, शफीक खान, सत्यम, विश्वजीत,अफजल गनी,भगवती साह,सोनू, सतेंद्र, मोनू सहित दर्जनों एआईएसएफ-एआईवाईएफ के नेता मौजूद थे।

निष्पक्ष और जनहित की पत्रकारिता ज़रूरी है

आपके लिए डेमोक्रेटिक चरखा आपके लिए ऐसी ग्राउंड रिपोर्ट्स पब्लिश करता है जिससे आपको फ़र्क पड़ता है
हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.