कांग्रेस की टिकट पर राजनीतिक पारी शुरू करने को तैयार शत्रुध्न सिन्हा के बेटे लव सिन्हा

कांग्रेस की टिकट पर लव सिन्हा

बिहार चुनाव की तारीख  जैसे जैसे नज़दीक आ रही है चुनाव और भी रोचक होती जा रही है। बिहार विधानसभा चुनाव में अब बॉलीवुड अभिनेता और पूर्व भाजपा सांसद शत्रुघन सिन्हा के बेटे लव सिन्हा ने भी अपनी चुनावी पारी शुरू करने की घोषणा कर दी हैं।

लव सिन्हा को कांग्रेस ने बांकीपुर विधानसभा सीट से टिकट दिया हैं। इस सीट पर उनका सामना भाजपा विधायक नितिन नवीन से होगा जो 2005 से यहां के विधायक हैं। लव सिन्हा ने इससे पहले अभिनय में भी अपना हाथ आज़माया था।

2009 में फिल्म ‘सदियों’ के साथ अपना बॉलीवुड डेब्यू किया था, लेकिन फिल्म बॉक्स ऑफिस फ़्लॉप रही थी। इसके बाद उन्होंने 2018 में जे पी दत्ता की पल्टन में भी अभिनय किया था। लेकिन अब उन्होंने राजनीति में हाथ आजमाने का फ़ैसला कर लिया हैं।

पटना साहिब सीट पर भाजपा के टिकट पर दो बार सांसद रह चुके शत्रुघन सिन्हा

शत्रुघ्न सिन्हा द्वारा अपने बेटे के लिए  बांकीपुर सीट का चुनाव  की खबर ने उनके समर्थकों समेत सबको हैरत में डाल दिया है। इसका कारण है इस सीट का  पटना साहिब लोकसभा सीट के अंतर्गत आना।


और पढ़ें :भाजपा की नीतीश से दूरी का इरादा नहीं, सुशील मोदी बोलें– नीतीश कुमार ही रहेंगे मुख्यमंत्री


यह क्षेत्र भाजपा का गढ़ माना जाता है। और 2019 लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के टिकट से खड़े हुए शत्रुघ्न सिन्हा को भी इस सीट पर हार मिली थीं। 

भाजपा की ओर से नवीन और कांग्रेस से लव सिन्हा आज दाखिल करेंगे नामांकन पत्र

कांग्रेस की ओर से  प्रवक्ता हरखू झा ने दि प्रिंट को जानकारी देते हुए कहा कि, ‘लव सिन्हा को बांकीपुर विधानसभा सीट दी गई है और वे आज अपना नामांकन पत्र दाखिल करेंगे।’ वहीं   शत्रुघन सिन्हा के इस फैसले का बचाव का करते हुए उनके सहयोगी   राजीव कांक  ने बताया कि लव इस क्षेत्र में नए नहीं है, उन्होंने 2019 के लोकसभा चुनावों में पटना साहिब के हर कोने का दौरा किया था। और वह बांकीपुर सीट से भी परिचित हैं।

बिहार चुनाव लड़ेंगे शत्रुघ्न सिन्हा के बेटे लव, इस सीट से उतरेंगे मैदान में - bihar election 2020 congress shatrughan sinha son love sinha bankipur seat | Dailynews

बिहार चुनाव में जातिगत आंकड़ा काफी महत्वपूर्ण रोल अदा करती है। इस सीट कि बात करे तो बांकीपुर में कायस्थों का वर्चस्व है, नितिन और लव दोनों ही उच्च जाति से आते हैं। भाजपा के लिए यह सीट काफी महत्वूर्ण है, यदि पटना साहिब भाजपा का किला है, तो बांकीपुर विधानसभा क्षेत्र ताज है। वर्तमान विधायक  नवीन के  दिवंगत पिता नवीन किशोर प्रसाद सिन्हा 1995 से इस सीट से विधायक रहे रहे थे और उनके बाद से वह भाजपा के इस वर्चस्व को बरकरार रखे हुए हैं।

इससे पहले भी सितारों को मौका दे चुकी है कांग्रेस, हर बार मिली है हार

कांग्रेस की बात करे तो उनकी पार्टी में लव सिन्हा को टिकट दिए जाने पर किसी ने ऐतराज नहीं जताया है ।  इस सीट पर उन्हें पहले से ही जीत कि उम्मीद नहीं थी। इससे पहले 2009 में शेखर सुमन को भी खड़ा किया था लेकिन उन्हें भी जीत नहीं मिल सकी थीं।

WATCH I Defeated Shatrughan Sinha, Nitin Nabin Will Beat Luv Sinha: Ravi Shankar Prasad | Shatrughan Sinha के बेटे Luv Sinha पर बोले Ravi S Prasad-'उनके पिता मुझसे हारे बेटे भी हारेंगे'

कांग्रेस ने महागठबंधन में सिर्फ सीटों कि संख्या देखी थी अपनी ताकत नहीं और कई ऐसे सीट उनके पास है जिसपर सिर्फ  प्रतीकात्मक लड़ाई होने वाली हैं। उनमें भी  दिग्गजों के बेटे और बेटियों को टिकट दिए जाने को लेकर पार्टी के भीतर पहले से घमासान चल रहा है। इस बीच लव सिन्हा को भी टिकट मिला हैं। अब यह देखना रोचक होगा कि लव सिन्हा को टिकट देने का फैसला सही साबित होता है या नहीं।

निष्पक्ष और जनहित की पत्रकारिता ज़रूरी है

आपके लिए डेमोक्रेटिक चरखा आपके लिए ऐसी ग्राउंड रिपोर्ट्स पब्लिश करता है जिससे आपको फ़र्क पड़ता है
हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.