बलिया घटनाकांड के आरोपी धीरेंद्र सिंह को एसटीएफ ने लखनऊ से किया गिरफ़्तार

बलिया घटनाकांड आरोपी धीरेंद्र सिंह गिरफ़्तार

बलिया कांड का मुख्य आरोपी धीरेंद्र सिंह लखनऊ से गिरफ्तार, पुलिस के सामने युवक पर बरसाईं थीं गोलियां | UP STF apprehends the main accused of Ballia incident Dhirendra Singh ...

 

गुरुवार को उत्तर प्रदेश के बलिया में  सरकारी सस्ते गल्ले के दुकान के चयन के दौरान गोली चलने से एक व्यक्ति की मौत तथा कई लोग घायल हो गये थी। इस मामले में मुख्य आरोपी की तलाश में 12 टीम लगी थी। लगातार कोशिश के बाद  इस मामले में  मुख्य आरोपी  धीरेंद्र सिंह को लखनऊ में गिरफ़्तार कर लिया गया हैं।

आरोपी पर 50-50 हजार रुपये का इनाम घोषित 

इस गिरफ्तारी के बारे में एसटीएफ के पुलिस महानिरीक्षक अमिताभ यश ने रविवार को बताया मुख्य आरोपी की गिरफ्तारी लखनऊ के पॉलीटेक्निक चौक में कि है। और इस मामले की दूसरे दो आरोपियों  संतोष यादव व अमरजीत यादव को भी बलिया शहर कोतवाली के वैशाली क्षेत्र से सुबह गिरफ्तार किया गया  हैं।

Ballia Murder UP STF Arrested Main accused Dhirendra Pratap Singh of Ballia Firing Case

सभी आरोपियों पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून और गैंगस्टर एक्ट की धाराएं लगाई गई हैं। गैंगस्टर कानून के तहत  इनकी संपत्ति जब्त कर आगे की कार्यवाही की जाएगी। पूछताछ के बाद गिरफ्तारी की जानकारी बलिया पुलिस को दे दी गई है जहां का यह पूरा मामला हैं।


और पढ़ें :दुनिया भर में जारी COVID-19 का क़हर,भारत में संक्रमण के 61,871 नए मामले दर्ज़


वीडियो वाइरल कर खुद को  पूर्व सैनिक संगठन का अध्यक्ष बता रहा मुख्य आरोपी

मुख्य आरोपी धीरेंद्र सिंह ने अपने गिरफ्तारी से पहले इसके एक  वीडियो जारी कर ख़ुद  को निर्दोष करार दिया। साथ ही  दावा किया की रेवती की पूरी घटना  पूर्व नियोजित करार थी, और  कहा है कि उसने बैठक के पहले ही बवाल होने की आशंका जताई थी।

Ballia Case Update : Up Stf Arrested Main Accused - बलिया कांड का मुख्य आरोपी साथियों संग लखनऊ से गिरफ्तार, सरेंडर करने की फिराक में था धीरेंद्र सिंह | Patrika News

पुलिस अधिकारियों ने उसकी बात पर कोई ध्यान नही दिया था इस वजह से ही यह घटना घाटी। उसके मुताबिक इस  घटना में उसके परिवार के एक व्यक्ति की भी मौत हो गई है तथा आधा दर्जन लोग घायल हैं।

बलिया के घटना के बाद प्रदेश की योगी सरकार पर विपक्षी   पार्टियाँ  समाजवादी पार्टी, कांग्रेस और बहुजन समाज पार्टी  लगातार पुलिस के सामने हुए घटना के बाद  कानून व्यवस्था को लेकर सवाल उठा रही थी। राजनीति सरगर्मी तेज होने के बाद पुलिस ने कार्यवाही  में तेजी लाते हुए अब तक कुल सात आरोपियों को गिरफ्तार कर चुकी है।

निष्पक्ष और जनहित की पत्रकारिता ज़रूरी है

आपके लिए डेमोक्रेटिक चरखा आपके लिए ऐसी ग्राउंड रिपोर्ट्स पब्लिश करता है जिससे आपको फ़र्क पड़ता है
हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.