बिहार में उद्घाटन से पहले ही पुल गिरा, क्या यही है बिहार में सुशासन की सरकार?

बिहार में 1 करोड़ 42 लाख की लागत से किशनगंज में पुल निर्माण किया गया था लेकिन बिहार सरकार के भ्रष्टाचार के कारण वो पुल उद्घाटन से पहले ही गिर गया. विपक्ष ने सरकार पर निशाना साधते हुए भ्रष्टाचार का आरोप लगाया है.


और पढ़ें- बिहार में भ्रष्टाचार का नया नाम है पुल निर्माण करवाना


देखें तस्वीर-

ये पुल बिहार के किशनगंज के इलाके में बनाया गया था. इस पुल का उद्घाटन चुनाव के मद्देनज़र होने जा रहा था लेकिन उससे पहले ही ये पुल गिर चुका है. इस पुल की लागत 1 करोड़ 42 लाख बताई जा रही है और साथ ही ये पुल 26 मीटर के स्पैन का है.

इस पुल के पास 20 मीटर का एक डायवर्सन बनना था लेकिन उसके नहीं बनने के कारण पूरा पानी पुल की तरफ़ बढ़ गया. अगर ये डायवर्सन बना होता तो ये पुल बच सकता था.

गोआबाड़ी पुल जिस इलाके में बनाया जा रहा है, वह इलाका इन दिनों बाढ़ की मार झेल रहा है. इलाका कई दिनों से पानी में डूबा हुआ है. कई दिनों से जारी बारिश के चलते पथरघट्टी के पास कनकई नदी का बहाव तेज हो गया और इस बहाव में पुल भी बह गया. पुल के बह जाने के बाद यह पूरा इलाका किसी टापू समान दिखाई दे रहा है.

निष्पक्ष और जनहित की पत्रकारिता ज़रूरी है

आपके लिए डेमोक्रेटिक चरखा आपके लिए ऐसी ग्राउंड रिपोर्ट्स पब्लिश करता है जिससे आपको फ़र्क पड़ता है
हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.