युवक

दुष्कर्म के झूठे आरोप से आहत होकर दिव्यांग युवक ने किया आत्महत्या

दिव्यांग युवक ने किया आत्महत्या

दुष्कर्म के आरोप से आहत होकर 41 वर्षीय दिव्यांग युवक ने खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली सुसाइड नोट में एक युवती और उसके पिता को आत्महत्या का जिम्मेदार ठहराया है

युवक

नोट में लिखा है कि युवती ने उससे 2 लाख रुपए उधार लिए थे और जब युवक ने अपने पैसे वापस मांगे तो युवती और उसके पिता ने झूठे केस में फंसाने की धमकी दे दी युवती ने थाने जाकर युवक पर झूठे दुष्कर्म के आरोप में केस दर्ज़ कर दिया जबकि दोनों के बीच आपसी सहमति से शारीरिक संबंध बने थे

अपनी छोटी मां के साथ रहता था युवक

पुलिस ने बताया कि दीपक अपनी छोटी मां के साथ रहता थाउसकी छोटी मां ने पुलिस को यह सूचना दी कि जब यह घटना हुई तो वह भी घर पर ही थी और नहाने गई थी गोली की आवाज सुनकर जैसे ही वह बाहर निकली तो दीपक को बेसुध हालत में देखा उसके कनपटी से खून निकल रहा था जल्द ही उसे अस्पताल ले जाया गया जहां रविवार सुबह उसकी मौत हो गई


और पढ़ें : दिल्ली में लगातार तीसरे दिन कोरोना के 400 से ज्यादा केस


कमरे में मिला सुसाइड नोट

युवक

पुलिस घटना के बाद मौके पर छानबीन के लिए पहुंची और कमरे से तमंचा, खोखा और खून से सना कंबल मिला और सुसाइड नोट भी पड़ा थाइसमें दीपक ने लिखा था कि मेरी मौत की जिम्मेदार का आरोप लगाने वाली युवती और उसके पिता हैंयुवती ने उससे दो लाख रुपए लिए थे जो वापस नहीं किए जब दीपक अपने पैसे मांगने उनके पास गया तो युवती और उसके पिता ने झूठे केस में फंसाने की धमकी दे डाली

बाद में उन्होंने दीपक को एक चेक दिया जो बाउंस हो गया इसको लेकर द्वारका में सुनवाई भी चल रही थी बाद में युवती और उसके पिता ने दीपक को झूठे रेप केस में फंसा दिया और थाने में मामला दर्ज़ कर दिया जिससे दीपक बेहद आहत हुआ था और इसी वजह से उसने आत्महत्या जैसा बड़ा कदम उठा लिया फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है और उनका कहना है कि जल्द ही युवती और उसके पिता की गिरफ्तारी भी की जाएगी

निष्पक्ष और जनहित की पत्रकारिता ज़रूरी है

आपके लिए डेमोक्रेटिक चरखा आपके लिए ऐसी ग्राउंड रिपोर्ट्स पब्लिश करता है जिससे आपको फ़र्क पड़ता है
हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.