दुनिया भर में कोरोना का क़हर,भारत में कोरोना संख्या 63,94,069 पहुंच गई

COVID-19 का क़हर 

दुनिया के कई देशों में अब भी COVID-19  का क़हर जारी है।दुनिया में इस कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 3,44,84,731 हो गई है। दुनिया भर में अब तक कोरोना महामारी से 2.56 करोड़ से ज्यादा मरीज ठीक हो चुके है।

COVID-19

अमेरिका में कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या 74,94,671 हो गई है, जबकि वहां 2,12,660 लोग अपनी जान गंवा चुके है। भारत, ब्राजील, रूस और पेरू जैसे देशों में भी मरने वाले लोगों की संख्या लगातार बढ़ रही है। दुनिया भर में अब तक कोविड19 की वजह से 10,27,661 लाख लोग जान गंवा चुके है।

भारत में COVID-19

भारत में कोविड-19 के नए मामलों की संख्या में वृद्धि जारी है। स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, देश में कोरोना से संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 63,94,069 पहुंच गई है।

India Covid 19 Tally Reaches 6394069 With Spike Of 81484 New Cases & 1095  Deaths In Last 24 Hours - कोरोना: एक लाख मौतों के करीब पहुंचा भारत, पिछले  24 घंटे में

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

पिछले 24 घंटे में देश में कोरोना से संक्रमण के 81,484 नए मामले आए है। कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या के हिसाब से अमेरिका के बाद भारत दुनिया में सबसे प्रभावित देश है। पिछले 24 घंटे में कोरोना से 1,095 लोगों की मौत हो गई। देश में घातक कोरोना वायरस से अब तक 99,773 लोगों की मौत हो चुकी है।


और पढ़ें:जस्टिस लिब्रहान का बयान: बाबरी विध्वंस की योजना बारीकी से बनाई गई थी


बिहार में COVID-19

बिहार में कोरोना संक्रमितों के स्वस्थ होने की दर गुरुवार को 92.72 रही। स्वस्थ होने की दर एक दिन पूर्व 91.74 फीसदी थी। जबकि 1431 नये कोरोना संक्रमितों की पहचान हुई। इसके साथ ही राज्य में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1,85,707 हो गयी। राज्य में कोरोना के अभी 13,933 सक्रिय मरीज हैं जिनका इलाज किया जा रहा है। 

कोरोनावायरस Live Updates : केरल में कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए  धारा 144 लागू

बिहार में कोरोना संक्रमितों की पहचान को लेकर 15 हजार से अधिक आरटीपीसीआर जांच शुरू हो चुकी है। राज्य में आरटीपीसीआर जांच बार-बार बढ़ाने की मांग के बाद राज्य सरकार के निर्देश पर स्वास्थ्य विभाग ने बढ़ा दिया है। राज्य में एक माह पहले तक करीब छह हजार जांच ही आरटीपीसीआर के माध्यम से हो रही थी। इस प्रकार, राज्य में आरटीपीसीआर जांच की संख्या में दोगुना से भी अधिक की बढ़ोतरी हुई है। स्वास्थ्य विभाग के सूत्रों के अनुसार आरटीपीसीआर जांच की संख्या को और अधिक बढ़ाने की दिशा में काम जारी है। 

सभी मेडिकल कॉलेज अस्पताल में कोरोना सुविधा

स्वास्थ्य विभाग के द्वारा राज्य के सभी मेडिकल कॉलेज अस्पतालों में आरटीपीसीआर जांच की व्यवस्था सुनिश्चित की गई है। एंटीजन टेस्ट में अगर कोई व्यक्ति निगेटिव आता है तो, उसके लिए आरटीपीसीआर जांच से संक्रमित होने या नही होने की अंतिम जानकारी मिल जाती है।

जबकि एंटीजन टेस्ट में कोरोना पॉजिटिव होने पर मरीजों को तत्काल ही पॉजिटिव मान लिया जाता है। स्वास्थ्य  विभाग के द्वारा मेडिकल जांच के बाद संक्रमितों के इलाज को लेकर सभी मेडिकल कॉलेजों में 100-100 बेड की व्यवस्था की गई है। 

जिला स्तर पर भी COVID-19 जांच की तैयारी

स्वास्थ्य विभाग के आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि राज्य में जिला स्तर पर आरटीपीसीआर जांच की व्यवस्था की जा रही है। जिला अस्पतालों में आरटीपीसीआर मशीन को लगाने और इसे इंस्टॉल करने के लिए स्थान चुनने के निर्देश दिए गए हैं।

सभी जिला मुख्यालय में आरटीपीसीआर मशीन पहुंचायी जा रही है। वही, राज्य में एंटीजन किट से कोरोना संक्रमित मरीजों की निःशुल्क जांच की सुविधा दी गयी है। तो, दूसरी ओर, आरटीपीसीआर से भी निःशुल्क कोरोना की जांच की जा रही है। एंटीजन टेस्ट की सुविधा राज्य के सभी जिला मुख्यालयों में उपलब्ध करायी गई है।

कोरोना काल में कुछ अन्य खबरें

  • लागू होगा टोकन सिस्टम, टोकन लेकर मतदाता अपनी बारी का कर सकते इंतजार
  • पंद्रह अक्टूबर से चरणबद्ध तरीके से खुलेंगे स्कूल व कोचिंग संस्थान, कोविड-19 गाइडलाइन का करना होगा पालन
  • अंतिम संस्‍कार के लिए अब नहीं लगेगा शुल्‍क, नगर निगम ने वापस लिया अपना निर्णय 
  • सितंबर में ही पिछले साल के मुकाबले 18 फीसद तक बढ़ गया प्रदूषण, पराली जलाने से बढ़ रहा खतरा
  • जहरीली होने लगी उत्तर प्रदेश के शहरों की हवा, जल्द ध्यान न दिया तो सेहत पर पड़ेगा विपरीत असर
Digiqole Ad Digiqole Ad

sneha singh

Related post