बिहार चुनाव: दलित नेता शक्ति मलिक हत्याकांड में तेजस्वी, तेज प्रताप समेत छह लोगों पर केस दर्ज

बिहार चुनाव के बीच दलित नेता की हत्या के मामले में एफ़आईआर दर्ज़ 

बिहार चुनाव के बीच एक नया मोड़ आ गया है। बिहार के पूर्णिया जिले में एक दलित नेता की हत्या के मामले में आरजेडी नेता तेजस्वी, उनके बड़े भाई तेजप्रताप यादव समेत छह लोगों के खिलाफ एफ़आईआर दर्ज़ की गई है।

शक्ति मलिक हत्याकांड : SP विशाल शर्मा ने कहा- जरूरत पड़ी तो तेजस्वी और तेजप्रताप से भी होगी पूछताछ » BeforePrint News | Hyperlocal News Hindi

इसकी पुष्टि पूर्णिया के एसपी विशाल शर्मा ने की।ग़ौरतलब है कि, रविवार सुबह कुछ नकाबपोशो ने दलित नेता शक्ति मलिक के घर घुस कर, उनकी गोली मारकर हत्या कर दी थी। 

इस मामले में केहाट थाना अधीक्षक सुनील कुमार मंडल ने बताया कि शक्ति की पत्नी खुशबू देवी ने अपने बयान में राजनीतिक साजिश के तहत पति की हत्या का आरोप लगाया है।


और पढ़ें:देश में पहली बार ट्रांसजेंडर  पीठासीन अधिकारी नियुक्त,फ़ैसले से पूरे देश के ट्रांसजेंडर समाज में खुशी की लहर


साथ ही उन्होंने तेज प्रताप, तेजस्वी, अनिल कुमार साधु, मनोज, सुनीता, कालो पासवान के खिलाफ आरोप लगाए हैं। उन्होंने अपने बयान में यह भी कहा कि उनके पति को राजद से निकाल दिया गया था, जिसके बाद वे निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में अररिया के रानीगंज विधानसभा से चुनाव लड़ने की तैयारी में लगे थे।

वहीं पुलिस ने घटना को दर्ज कर मामले की छानबीन शुरू कर दी है। साथ ही, उन्होंने घटनास्थल पर पहुँचकर निरीक्षण भी किया, जिसमे पुलिस को घटनास्थल से एक खोखा और देसी कट्टा बरामद हुआ है।

शक्ति मलिक हत्याकांड : SP विशाल शर्मा ने कहा- जरूरत पड़ी तो तेजस्वी और तेजप्रताप से भी होगी पूछताछ » BeforePrint News | Hyperlocal News Hindi

ग़ौरतलब है कि, हाल ही में शक्ति मलिक ने आरजेडी नेता तेजस्वी यादव पर गंभीर आरोप लगाए थे। 

उन्होंने कहा था कि रानीगंज से टिकट की मांग करने पर तेजस्वी ने टिकट के बदले उनसे 50 लाख की मांग की थी। 

उन्होंने तेजस्वी पर जातिगत टिप्पणी करने और अपनी जान का खतरा होने का भी आरोप लगाया था।

चुनाव में तेजस्वी हमेशा दलित वर्ग, पिछड़े और वंचितों की बात करते हैं

दूसरी और जदयू के प्रवक्ता राजीव रंजन प्रसाद ने तेजस्वी पर आरोप लगाते हुए कहा कि तेजस्वी हमेशा दलित वर्ग, पिछड़े और वंचितों की बात करते हैं। लेकिन वायरल वीडियो में उनकी असलियत को देखा जा सकता है।

प्रसाद ने यह भी कहा कि मलिक से टिकट के लिए तेजस्वी ने उनसे पहले 50 लाख तथा टिकट फाइनल होने के बाद 20 लाख रुपए की मांग की थी। 

DANIK BHASKAR BIHAR NEWS : RSS FEED POSTS #EDUCRATSWEB

इससे जब शक्ति मलिक ने इंकार कर दिया, तब तेजस्वी ने उन्हें जाति सूचक शब्दों से गाली दी और उनकी गोली मारकर हत्या कर दी गई।

जेडीयू नेता अजय आलोक ने चुनाव आयोग को संज्ञान और सीबीआई जांच की मांग की 

जेडीयू नेता अजय आलोक ने इस मामले में चुनाव आयोग को संज्ञान लेने और सीबीआई जांच करवाने को कहा है। ऐसे में यह देखना होगा कि इस मामले का असर चुनावों में क्या पड़ने वाला है।

Digiqole Ad Digiqole Ad

Shobhit

Related post