बिहार चुनाव:बीजेपी की बड़ी कार्यवाही, लोजपा की टिकट पर चुनाव लड़ने वाले 9 बागियों को किया निलंबित

बिहार चुनाव: लोजपा ने 9 नेताओं को टिकट दिया था 

बिहार चुनाव को लेकर सरगर्मी तेज है। चुनावों में जदयू भाजपा, लोजपा व महागठबंधन की दो पार्टियों राजद-कांग्रेस के बीच कांटे की टक्कर नजर आ रही है। वहीं दूसरी ओर लोजपा ने भाजपा के 9 बागी विधायकों को टिकट दिया था।

लेकिन अब इसमें एक बड़ा मोड़ आ गया है। भाजपा ने लोजपा के टिकट पर चुनाव लड़ रहे बागियों के खिलाफ रुख कड़ा करते हुए उन्हें 6 साल के लिए निलंबित कर दिया है। इस संबंध में भाजपा राज्य इकाई के अध्यक्ष संजय जायसवाल ने सोमवार को एक पत्र जारी किया था, जिनमें 9 विधायकों के निलंबित किए जाने की जानकारी दी गई थी।

भाजपा की दलील यह है कि इन प्रत्याशियों की वजह से पार्टी और एनडीए की छवि धूमिल हो रही थी जिस वजह से उन्हें निकालने का फैसला लिया गया है।

चुनाव में इन 9 नेताओं को किया गया निलंबित

9 नेताओं में राजेंद्र सिंह, रामाश्रय चौरसिया, डॉ उषा विद्यार्थी, रविंद्र यादव, श्वेता सिंह, इंदु कश्यप, अनिल कुमार मृगाल शेखर और अजय प्रताप सिंह सम्मिलित है।

Bihar Vidhan Sabha Chunav 2020 Guidelines: EC Issues Guidelines For General Elections & By-Elections During COVI 19 - विधानसभा चुनाव 2020 गाइडलाइंस: तय समय में ही होंगे बिहार में चुनाव, EC ने

इन सभी 9 लोगों को 6 साल के लिए निलंबित कर दिया गया है। जायसवाल ने इस मामले में कहा कि चुनाव के बाद भी इन्हें वापस नहीं लिया जाएगा।


और पढ़ें:दुनिया भर में जारी कोरोना का क़हर, भारत में संक्रमण की संख्या 71.75 लाख पहुंच गई


चुनाव में नेताओं के बाहर जाने से गठबंधन के सहयोगियों के बीच तनाव की स्थिति

भाजपा के द्वारा 9 नेताओं को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाए जाने की वजह से गठबंधन सहयोगियों के बीच तनाव की स्थिति आ गई है। दरअसल, भाजपा के इस कदम को मुख्यमंत्री नितीश कुमार का कद घटाने के तौर पर देखा जा रहा है।

kab honge bihar vidhan sabha chunav: Bihar Vidhan Sabha Election Date 2020: बिहार चुनाव की तारीखों के ऐलान से पहले राजनीतिक दलों ने एक सुर में कहा- 'हम तैयार हैं' - bihar

इसके पीछे यह तथ्य रखा जा रहा है कि लोजपा भाजपा के खिलाफ प्रत्याशी नहीं उतार रही। इस संबंध में उप मुख्यमंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने कहा कि, ‘यह बात एकदम स्पष्ट की जानी चाहिए कि लोजपा एनडीए का हिस्सा नहीं है।‘

ओपिनियन पोल ने यह कदम उठाने के लिए किया बाध्य

भाजपा सूत्रों के मुताबिक चुनाव से पहले किए गए सर्वेक्षणों ने पार्टी को यह कदम उठाने के लिए बाध्य किया है। दरअसल, टाइम्स नाउ, सी वोटर, ओपिनियन पोल में एनडीए को 160 सीटें मिलने का अनुमान लगाया गया जिसमें भाजपा को 85 तथा जदयू को 70 सीटें, वही राजद कांग्रेस के खाते में 80 सीटें जाने का अनुमान लगाया गया।

bihar election 2020 both the coalitions of bihar nda and mahagathbandhan seat sharing scene not clear after the declaration of election dates paries to be ready skt | Bihar Election 2020: बिहार

हालांकि इस संबंध में डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने पहले ही चेतावनी दे दी थी। लेकिन पार्टी द्वारा ओपिनियन पोल के बाद 3 नवंबर के दूसरे चरण के मतदान के नामांकन दाखिल करने की अंतिम तिथि से 5 दिन पहले ही यह निर्णय ले लिया।

Digiqole Ad Digiqole Ad

Bharti

Related post