बिहार चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की एंट्री, रैली में सासाराम को भी संबोधित किया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पहली चुनावी रैली

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कल बिहार में अपनी पहली चुनावी रैली की। उन्होंने इसकी शुरुआत बिहार के सासाराम से की और इस दौरान उन्होंने पूर्व लोजपा अध्यक्ष स्वर्गीय राम विलास पासवान और  राजद के पूर्व उपाध्यक्ष स्वर्गीय रघुवंश प्रसाद सिंह को श्रद्धांजलि अर्पित की।

भारत के सम्मान बा बिहार'- पीएम बोले, बिहार को 'बीमारू' राज्य बनाने वालों को फटकने नहीं देना है

आगामी बिहार चुनाव के पहले चरण की वोटिंग जो कि 28 अक्टूबर से सुनिश्चित की गई है उसमें अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की एंट्री हो चुकी है। प्रधानमंत्री ने कल बिहार के सासाराम और गया से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और भाजपा को जिताने के लिए अभिवादन किया और अपनी पहली चुनावी रैली बिहार विधानसभा चुनाव 2020 के लिए की। इस दौरान उन्होंने पूर्व केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान और राजद के पूर्व उपाध्यक्ष रघुवंश प्रसाद सिंह को श्रद्धांजलि अर्पित की। दूसरी ओर गया की चुनावी रैली में वह लगातार विपक्ष पर हमलावर रहे। उन्होंने बिहार की जनता से अपील कर कहा कि बिहार को लालच की नजर से देखने वालों से सावधान रहें।


और पढ़ें :बिहार चुनाव में प्रधानमंत्री मोदी और कांग्रेस नेता राहुल गांधी आमने सामने


मोदी ने रैली की शुरुआत में बिहार की भोजपुरी भाषा से बिहार वासियों का अभिवादन किया

प्रधानमंत्री मोदी ने अपनी रैली की शुरुआत में बिहार की भोजपुरी भाषा से बिहार वासियों का अभिवादन किया। उन्होंने भोजपुरी में कहा कि भारत के सम्मान बा बिहार,भारत के स्वाभिमान बा बिहार,भारत के संस्कार बा बिहार,संपूर्ण क्रांति के शंखनाद बा बिहार,आत्मनिर्भर भारत के परचम बा बिहार।

Bihar Election 2020 Pm Modi Addressed Three Rally In One Day Targeted Opposition Party Rjd And Congress - Bihar Election 2020: पीएम मोदी बोले- ' बीमारू' बनाने वालों को फटकने नहीं दें -

प्रधानमंत्री ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की जमकर तारीफ की और विपक्ष पर लगातार तीखे हमले किए।उन्होंने कहा कि बिहार के लोगों ने निश्चय कर लिया है कि जिन्होंने बिहार को बीमारू राज्य बनाया था उन्हें आसपास भी भटकने नहीं देना है। जंगलराज को याद दिलाते हुए उन्होंने कहा कि वह दिन कोई बिहारी भूल नहीं सकता जब सूरज ढलने का मतलब होता था सब कुछ ठप्प पड़ जाना एवं बंद हो जाना। आज उसी बिहार में रौनक है,बहार है। आज यहां सड़के हैं, बिजली है और सबसे जरूरी बात राज्य में वह माहौल है जहां जनता बिना डरे सुखी  से रह सकती है।

विपक्ष पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि जिन लोगों ने नौजवानों को नौकरी दिलाने के लिए मोटी रिश्वत खाई उनसे सावधान रहना है। वह फिर बढ़ते हुए बिहार को अपने लालच की नजर से देख रहे हैं। वह आगे कहते हैं कि आज भले ही बिहार में पीढ़ी बदल गई हो लेकिन बिहार के नौजवानों को यह बात याद रखनी है कि बिहार को उस दलदल में धकेलने वाले कौन थे?

प्रधानमंत्री ने कहा कि एनडीए में सभी एकजुट होकर आत्मनिर्भर और आत्मविश्वास बनाने में लगे

बिहार को बीमारू बनाने वालों को वापस नहीं आने देंगे, सासाराम में बोले पीएम मोदी - बिज़नेस बाईट्स

राज्य सरकार की तारीफ करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि आज एनडीए में सभी एकजुट होकर बिहार को आत्मनिर्भर और आत्मविश्वास ही बनाने में लगे हैं। बिहार को आज भी विकास की राह पर बहुत आगे जाना है और बुलंदी हासिल करनी है। उन्होंने यह भी कहा कि सुविधा के साथ-साथ बिहार के सभी वर्गों को अधिक से अधिक अवसर देने के लिए काम किया जा रहा है। दलित, आदिवासी एवं पिछड़े वर्गों को मिले आरक्षण को 10 साल के लिए बढ़ा दिया गया है।

कोरोना का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि आज इस कोरोना काल में जिस तरीके से नीतीश कुमार के नेतृत्व में बिहार की जनता ने इस बीमारी से डटकर लड़ा है वह सभी बधाई के पात्र हैं। कोरोना से लड़ने के लिए कई फैसले लिए गए जिसमें बिहार के लोगों ने अपना पूर्ण समर्थन दिया और उसी का परिणाम आज समस्त बिहार में दिख रहा है। नीतीश कुमार के नेतृत्व में एनडीए ने इस महामारी से बचाव के हर संभव कदम उठाए।

गलवार घाटी में शहीद हुए बिहार के सपूतों को भी प्रधानमंत्री ने श्रद्धांजलि दी। उन्होंने कहा कि “बिहार के सपूत बलवान घाटी में देश के खातिर शहीद हो गए लेकिन भारत मां का सिर झुकने नहीं दिया। मैं उन्हें नमन करता हूं और श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं”। उन्होंने पुलवामा हमले में भी शहीद हुए बिहार के जवानों को याद करते हुए श्रद्धांजलि अर्पित किया।

Digiqole Ad Digiqole Ad

Aparna Vatsh

Related post