नोएडा स्थित ‘प्राइड स्टेशन’ बना ट्रांसजेंडर्स का पहला मेट्रो स्टेशन

नोएडा स्थित ‘ प्राइड स्टेशन ‘ बना उत्तर भारत का पहला मेट्रो स्टेशन 

भारत ही नहीं दुनिया के कई ऐसे देश है, जहां ट्रांसजेंडर्स ने अपने लिए बराबरी के हक के लिए लंबी लड़ाई लड़ी हैं। भारत में भी कानून में समय समय पर कानूनों में कई बदलाव कर के ट्रांसजेंडर्स को हक दिया जा रहा है। लेकिन जितना आसान कानून बदलना है, समाज को बदलना उतना ही कठिन हैै। आज भी समाज में ट्रांसजेंडर्स को कई लोग उपेक्षा भरी नजरों से देखते है। परंतु हाल ही में नोएडा मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन (एनएमआरसी) ने समाज में ट्रांसजेंडर्स के प्रति लोगों का नजरिया बदलने के लिए एक अनोखी पहल की है। एनएमआरसी ने सेक्टर-50 स्थित मेट्रो स्टेशन का नाम बदलकर मंगलवार को आधिकारिक रूप से ‘प्राइड स्टेशन’ कर दिया है। और इस ‘प्राइड स्टेशन’ को ट्रांसजेंडर्स को सम्मान देने के लिए उनके  समुदाय को समर्पित कर दिया है।

Curtailed Timings, Mandatory Face Mask: Noida Metro to Resume Operation From Sept 7

एनएमआरसी ने ट्रांसजेंडरों को ‘प्राइड मेट्रो स्टेशन’ समर्पित कर, छह ट्रांसजेंडर्स  को नौकरी भी दिया

27 अक्टूबर  को गौतमबुद्ध नगर के सांसद डॉ. महेश शर्मा और नोएडा विधायक पंकज सिंह की उपस्थिति में प्राइड स्टेशन में कार्यदायी संस्था के माध्यम से संविदा के आधार पर माही गुप्ता(टॉम ऑपरेटर), पान्या(टॉम ऑपरेटर), सूरज/काजल(टॉम ऑपरेटर), शानू(टॉम ऑपरेटर), पवन/प्रीति(हाउस कीपिंग), कुनाल माहोर(हाउसकीपिंग) को कार्य करने का अवसर प्रदान किया गया है।

Nmrc Sector 50 Pride Metro Station Dedicated To Transgender Community 6 Trans Men Women Deployed Unveiled By Mp Dr Mahesh Sharma - एनएमआरसी ने ट्रांसजेंडरों को समर्पित किया 'प्राइड मेट्रो स्टेशन', छह

इस खास मौके पर नजरिया नामक एनजीओ के लोग भी मौजूद थे। यह एनजीओ ट्रांसजेंडरों के लिए कार्य करता है और उनकी आवाज उठाता रहता है। एनएमआरसी ने इस एनजीओ के साथ नजदीकी से काम किया ताकि ट्रांसजेंडर्स के बारे में बेहतर समझ विकसित कर सके।


और पढ़ें :बिहार चुनाव में सोनिया गांधी ने एनडीए गठबंधन पर निशाना साधा


यह सराहनीय कदम  उठाने के पीछे एनएमआरसी का लक्ष्य  ट्रांसजेंडर समुदाय की सहभागिता समाज में बढ़ाना

वर्ष 2011 की जनगणना के अनुसार देश में 4.9 लाख ट्रांसजेंडर रहते हैं, जिनमें से 35000 एनसीआर में निवास करते हैं। वर्तमान में यह संख्या निश्चित रूप से बढ़ी होगी यह मानकर ही एनएमआरसी इस समुदाय की सहभागिता बढ़ाने की ओर यह फैसला लिया है।

तो यह होगा उत्तर-भारत का पहला शी-मैन मेट्रो स्टेशन जहांं ट्रांसजेंडरों के लिए होगी विशेष सुविधाएं, आप भी भेज स

नोएडा प्राधिकरण की मुख्य कार्यपालक अधिकारी ऋतु माहेश्वरी इस बारे में और जानकारी देते हुए बताया कि जून माह में एनएमआरसी ने घोषणा की थी कि सेक्टर 50 मेट्रो स्टेशन को ट्रांसजेंडर समुदाय के लिए समर्पित किया जाएगा जिसके तहत आज उक्त स्टेशन को ट्रांसजेंडर समुदाय को समर्पित कर दिया गया। उन्होंने यह भी कहा कि इससे पूर्व नोएडा के सेक्टर 76 मेट्रो स्टेशन लाइन के दो मेट्रो स्टेशनों को महिलाओं को समर्पित करते हुए पिंक मेट्रो स्टेशन घोषित किया जा चुका है।  इन स्टेशनों पर महिला कर्मचारी काम कर रही हैं।

Digiqole Ad Digiqole Ad

Shreya Sinni

Related post