हरियाणा में स्नातक की छात्रा की कॉलेज के बाहर हत्या के मामले में आरोपी गिरफ्तार

हरियाणा में छात्रा के दिनदहाड़े कॉलेज के बाहर हत्या 

हरियाणा के फरीदाबाद में दिनदहाड़े स्नातक अंतिम वर्ष की छात्रा निकिता तोमर की हत्या में शामिल मुख्य आरोपी तौसीफ और उसके साथी रेहान को गिरफ्तार कर लिया गया है। यह पूरा मामला बल्लभगढ़ थाना क्षेत्र के मिल्क प्लांट रोड स्थित अग्रवाल कॉलेज के सामने का है।

दोनों आरोपी सोमवार शाम चार बजे   21 वर्षीय बीकॉम अंतिम वर्ष की  छात्रा जो परीक्षा देकर कॉलेज से बाहर निकलते ही कार सवार दोनो युवकों ने अपहरण का प्रयास किया। लेकिन इसमें नाकाम रहने के बाद  एक युवक ने छात्रा को गोली मार दी  जिससे उसकी  घटना स्थल पर ही उसकी मौत हो गई।

Haryana news Yamunanagar rape with ITI student during last one year | एक साल से छात्रा परिवार को नींद की गोली देती रही, ज्यादा डोज दी तो उसे ब्लैकमेल करके रेप का

पूरे शहर के लोग इस निर्मम हत्या के विरोध में शहर के गौंछी-सोहना रोड पर जाम लगा कर पुलिस प्रशासन व सरकार से आरोपियों कि फांसी का मांग कर रहे। इस पूरे मामले पर हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज ने  भी बयान दिया है। विज ने पीड़ित छात्रा के परिवार को सुरक्षा उपलब्ध कराने के निर्देश बल्लभगढ़ पुलिस प्रशासन को दिया है। इसके साथ ही उन्होंने पुलिस आयुक्त को आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का भी  निर्देश दिया है।


और पढ़ें:तेजस्वी यादव ने कहा,’ नीतीश जी के अपशब्द,मेरे लिए आशीर्वचन’


हरियाणा पुलिस की शुरुआती जांच में मामले को एकतरफा प्यार से जोड़ रही

इस पूरे मामले में नए खुलासे हो रहे और और साथ ही हरियाणा पुलिस की नाकामी की भी पोल खुल रही है। पीड़िता निकिता तोमर के परिवार के मुताबिक़ दो साल पहले भी आरोपी ने कॉलेज के समय निकिता के अपहरण किया था।

Faridabad Ballabgarh Murder News Nikita Tomar Murder Case Accused Tausif From A Political Family, Grandfather Is Former Legislator, Brother Of Congress Mla - निकिता हत्याकांड: राजनीतिक परिवार से है आरोपी तौसीफ ...

इस मामले  में शहर के थाने में  पुलिस के पास केस दर्ज़ कराया गया, लेकिन बाद में आरोपी की राजनीतिक परिवार से संबंध के चलते उसे बिना कोई कठोर कार्यवाही के छोड़ दिया गया था और परिवार ने भी बदनामी के डर से मामले को तूल नहीं दिया था। अगर समय पर कार्रवाई हो जाती तो आज निकिता जिंदा होती।

Nikita Tomar Murder Case: Nikita Wanted To Become An Ias Officer Did Not Break From Inside Even After Kidnapping - Nikita Tomar News: निकिता पर आईएएस अधिकारी बनने की धुन थी सवार,

पुलिस  इस मामले  में जानकारी देते हुए बताया कि घटना के तुरंत बाद पीड़िता को अस्पताल ले जाया गया था लेकिन डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया था। इस घटना के आरोपियों को गिरफ्तार कर, दो दिन की रिमांड पर लिया है ।

घटना के खिलाफ अभी भी लोग और परिवार वाले कर रहे सड़क पर प्रदर्शन

मृतका के परिजनों ने पुलिस प्रशासन पर आरोप लगाया कि जो प्राथमिकी दर्ज़ की गई है, उसमें कुछ खामियां हैं। आरोपी और उसकी मां निकिता पर धर्म बदलने का दबाव डाल रहा था, जिसका ज़िक्र इसमें नहीं किया गया है। इसके साथ ही उन्होंने पूरे  मामले को फास्ट ट्रैक अदालत में भेजें जाने की भी मांग कर रहे ताकि आरोपियों को फांसी की सजा दी जाए। परिजनों का कहना है  कि जब तक उनकी मांगें पूरी नहीं होतीं तब तक उनका प्रदर्शन जारी रहेगा।

Digiqole Ad Digiqole Ad

Shreya Sinni

Related post