मुंगेर में हुए गोलीकांड के विरोध में शहर बंदी, गुस्साए लोगों ने किया एसपी के खिलाफ जमकर प्रदर्शन

बिहार के मुंगेर का दुर्गा पूजा विसर्जन

बिहार के मुंगेर में दुर्गा पूजा के विसर्जन के दौरान युवकों पर लाठीचार्ज और गोलीबारी हुई थी जिसमें एक युवक की जान चली गई थी इसी के विरोध में गुरुवार को शहर रहा बंद और आक्रोशित लोगों ने किया जमकर प्रदर्शन।

बिहार: मूर्ति विसर्जन में लाठीचार्ज-गोली कांड के बाद भड़की हिंसा, मुंगेर के SP और DM हटाए गए | In Bihar, Munger closed in protest Over Police firing and young man death, Jeep

 

बिहार के मुंगेर जिले में दुर्गा पूजा के दौरान पुलिस द्वारा किया गया गोलीबारी और लाठीचार्ज के वजह से गुरुवार को पूरा शहर एवं बाजार बंद रहा।लाठीचार्ज और गोलीबारी के दौरान एक युवक की जान चली गई थी जिसके बाद गुरुवार को मुंगेर बंद रहा। चेंबर ऑफ कॉमर्स के सदस्यों ने सुबह से ही सारे बाजार को बंद रखने की अपील की। गोलीबारी के विरोध में शहर भर में जमकर प्रदर्शन भी हुआ।

एसपी के खिलाफ जमकर नारेबाजी और प्रदर्शन

आपको बता दें कि शहरवासी एसपी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग कर रहे हैं। शहर बंदी के दौरान प्रदर्शन कर रहे लोगों ने एसपी कार्यालय के बाहर एसपी के खिलाफ जमकर नारेबाजी और प्रदर्शन किया।

उत्तर प्रदेश और बिहार में आकाशीय बिजली गिरने से 34 लोगों की मौत

प्रदर्शन कर रहे लोग इतने आक्रोशित हो गए कि वहां पत्थरबाजी भी करने लगे। इतना ही नहीं प्रदर्शनकारियों ने एसडीओ के गोपनीय शाखा कार्यालय में भी तोड़फोड़ किया। घटना के दौरान माहौल तनावपूर्ण बन गया था। प्रदर्शनकारियों ने पुलिस की दो जीप को भी आग के हवाले कर दिया।


और पढ़ें :सियासी विरासत नहीं बल्कि अब चुनावी  मैदान में उतरा मनरेगा मज़दूर संजय


गौरतलब हो कि बिहार के मुंगेर जिले मैं सोमवार आधी रात दुर्गा प्रतिमा के विसर्जन के दौरान पुलिस और सुरक्षाबलों में झड़प हो गई थी जिसके बाद पुलिस को लाठीचार्ज और गोलीबारी करनी पड़ी इसमें एक युवक की मौत हो गई और 6 लोग घायल हो गए थे।

bihar elections 2020 bihar assembly elections naxalites in bihar naxalite conspiracy bihar polic

घटना शादीपुर में हुई जहां दुर्गा विसर्जन के दौरान युवकों पर बल प्रयोग किया गया जिसकी वजह से भीड़ उग्र हो गई और पुलिस और भीड़ में हिंसक झड़प हो गई। इसके बाद बचाव के लिए पुलिस को गोली चलानी पड़ी जिसमें एक युवक की मौके पर ही मौत हो गई और बाकी छह लोग घायल हो गए जिनका इलाज सदर अस्पताल में किया जा रहा है।

एसपी लिपि सिंह ने घटना के बाद बयान जारी करते हुए कहा

एसपी लिपि सिंह ने घटना के बाद बयान जारी करते हुए कहा कि कुछ असामाजिक तत्व ने पहले पुलिस पर पथराव किया जिसके वजह से 20 पुलिस के जवान घायल हो गए। एक एसएसओ स्तर के अधिकारी का सर भी फट गया।पुलिस ने दावा किया है कि असामाजिक तत्व को रोकने के लिए पुलिस को बल का सहारा लेना पड़ा इसके वजह से गोलीबारी हुई और एक युवक की मौत हो गई।

बिहार विधानसभा चुनाव के बीच यह घटना होना काफी सवाल खड़े कर रहा है।28 अक्टूबर को बिहार में पहले चरण की वोटिंग होनी थी और यह घटना उस से ठीक एक दिन पहले घटी जिसकी वजह से आक्रोशित लोग एसपी को बर्खास्त करने की मांग कर रहे हैं। इस घटना के बाद विपक्ष नीतीश सरकार पर हमलावर हो गया है। इस गोलीकांड के विरोध में विपक्ष की ओर से जमकर राज्य सरकार पर निशाना साधा जा रहा है। राजद नेता तेजस्वी यादव ने घटना की तुलना जालियांवाला बाग से की वहीं लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान ने भी घटना की निंदा करते हुए एसपी पर करें कार्रवाई की मांग की है। उधर राज्य सरकार ने न्यायिक जांच के आदेश दे दिए हैं।

Digiqole Ad Digiqole Ad

Aparna Vatsh

Related post