EVM बदले जाने के अफ़वाह के बाद कांग्रेस प्रत्याशी का समर्थकों के मामले में केस दर्ज़

भागलपुर में ईवीएम बदले जाने के अफ़वाह 

भागलपुर में बिहार विधानसभा के लिए चुनाव में दूसरे चरण के चुनाव के दौरान ईवीएम बदले जाने के अफ़वाह के बाद कांग्रेस प्रत्याशी और उनके सात समर्थकों द्वारा हंगामा करने के आरोप में आज पुलिस ने केस दर्ज़ कर लिया है।

rumors of changing evm in bihar elections created ruckus case filed against seven including congress candidate from bhagalpur ajit sharma skt | बिहार चुनाव में EVM बदले जाने की अफवाह से मचा

हंगामे से जुड़ा यह पूरा मामला भागलपुर में इशाकचक थाना क्षेत्र के भीखनपुर का है। इस क्षेत्र ने अफवाह के बाद जोरदार हंगामा हुआ था।  इस मामले में सेक्टर दंडाधिकारी सह आईटीआई अनुदेशक बाल्मीकि कुमार ने कांग्रेस प्रत्याशी अजीत शर्मा सहित सात लोगों के खिलाफ नामजद प्राथमिकी दर्ज़ कराई है।

केस दर्ज़ करने के बाद इंस्पेक्टर सुधांशु कुमार ने कहा कि हंगामा करने वाले लोगों की पहचान के लिए वीडियो फुटेज खंगाले जा रहे हैं। पहचान व चेहरा मिलने पर और लोगों पर प्राथमिकी दर्ज़ की जा सकती है।


 और पढ़ें :अर्णब गोस्वामी की हुई कोर्ट में पेशी, कोर्ट ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा


आकस्मिक सेवा के लिए रखा गया था अतिरिक्त ईवीएम मशीन

rumors of changing evm in bihar elections created ruckus case filed against seven including congress candidate from bhagalpur ajit sharma skt | बिहार चुनाव में EVM बदले जाने की अफवाह से मचा

मामला दर्ज़ करने वाले सेक्टर दंडाधिकारी बाल्मीकि कुमार ने पुलिस को बताया कि मंगलवार की शाम साढ़े चार बजे दलबल के साथ वह बूथ नंबर 238 व 239 पर चुनावी कार्य से संबंधित भ्रमण करने वाहन से गए थे। और इसी वाहन में अतिरिक्त ईवीएम वीवी पैट आदि रखा था। वहां पर मौजूद  कुछ लोगों ने  वाहन पर रखे ईवीएम को देख उग्र हो गये और हंगामा करने लगे। उस समय मतदान की प्रक्रिया चल रही थी। हंगामे के वक्त चुनाव चल ही रहा था और इस वजह से  चुनावी कार्य को भी कुछ देर के बाधित किया गया था।

मौके पर मौजूद वरीय पुलिस अधिकारियों ने लोगों को शांत करवाया 

आगे वाल्मीकि ने पुलिस को बताया कि सूचना मिलने पर कांग्रेस प्रत्याशी अजीत शर्मा अपने समर्थकों के साथ मौके पर पहुंचे हो उन्होंने भी कांग्रेस प्रत्याशी को इस प्रक्रिया के बारे में अवगत कराया, लेकिन चारों ओर से लोगों ने उन्हें घेरने का प्रयास किया और उन पर धांधली का गलत आरोप लगाया जिस कारण उन्होंने पुलिस के पास केस दर्ज़ करवाया हैं।

Digiqole Ad Digiqole Ad

Shreya Sinni

Related post