दलित युवती से प्रेम विवाह करने पर युवक की हुई हत्या

दलित युवती से प्रेम विवाह करने की वो सजा भुगतनी पड़ी

यह घटना हरियाणा के गुरुग्राम की है। जहां युवक को दलित युवती से प्रेम विवाह करने की वो सजा भुगतनी पड़ी जिसके बारे में किसी ने सोचा भी नहीं होगा। दलित लड़की से प्यार और शादी करने की वजह से लाठियों से पीट-पीटकर युवक की हत्या कर दी गई। दरअसल इस प्रेम विवाह से लड़की के गांव में भारी आक्रोश था। अंतरजातीय विवाह से क्षुब्ध कुछ दलित युवकों ने युवक को न केवल जान से मारने की धमकी दे डाली बल्कि उसके गांव में आने-जाने पर भी रोक लगा दी।

बावजूद इसके युवक बीती 8 नवंबर को लोगों की नजरों से बचता बचाता अपनी ससुराल जा पहुंचा। जहां आधा दर्जन दलित युवकों ने लाठी डंडों से उसकी जमकर पिटाई की।युवक को गंभीर अवस्था में अस्पताल ले जाया गया।जहां 8 नवंबर को युवक की पिटाई की गई थी ठीक उसके 2 दिन बाद 10 नवंबर को इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। 


और पढ़ें : कर्नाटक में महिला पार्षदों के साथ हाथापाई के चलते विवादों में घिरे भाजपा विधायक


आरोपी ने चालक के बजाय आकाश से किया झगड़ा

पत्नी को ससुराल लेने गए दलित युवक की पुलिस के सामने हत्या, ससुराल वालों ने काट डाला

जानकारी के लिए  बता दें कि पकड़े गए आरोपी अजय ने पूछताछ में खुलासा किया कि 8 नवंबर की रात वह पैदल जा रहा था जबकि आकाश ऑटो में सवार था। ऑटो से आरोपी को साइड में लगी तो ऑटो चालक ने उसे ठीक से चलने को कहा तो उसमें सवार आकाश ने भी कहा कि देखकर नहीं चल सकता। इसी पर आरोपी ने चालक के बजाय आकाश से झगड़ा किया।फिर अपने साथियों को बुलाकर आकाश पर  जानलेवा हमला कर दिया और उसे अधमरा छोड़ कर भाग गए।आरोपियों के पास से 2 डंडे,1लोहे की पाइप पुलिस ने बरामद कर ली गयी है।

पुलिस को मिली थी मामले की शिकायत 

Youth Killed For Love Marriage, Shot First, Then Strangled - प्रेम विवाह करने पर दलित युवक की हत्या, पहले मारी गोली फिर रेत दिया गला | Patrika News

पुलिस को मामले की शिकायत राजस्थान अलवर के गांव लक्ष्मणगढ़ निवासी राहुल ने दी थी। राहुल फिलहाल भोंडसी की गोवर्धन कुंज कॉलोनी में रहता है। उसने बताया कि छोटा भाई आकाश भी उसके साथ रहता था। एक निजी कंपनी में काम करने वाले युवक आकाश ने 5 महीने पहले बादशाहपुर की रहने वाली एक दलित लड़की से प्रेम विवाह किया था। जिसके चलते बादशाहपुर के कई युवकों ने उसे बादशाहपुर आने पर जान से मारने की धमकी भी दी थी।इसके बाद 8 नवंबर को आकाश जब ससुराल गया था तो वहां पांच युवकों पवन, मोहित, रवि, अजय व लालू उर्फ धर्मेंद्र ने लाठी-डंडों से पीटकर अधमरा कर दिया।

10 नवंबर की देर रात युवक की इलाज के दौरान मौत हुई तो बुधवार को पुलिस ने केस में हत्या की धारा जोड़ी। वहीं वारदात करने वाले पांच आरोपियों अजय, रवि, पवन, मोहित व धर्मेंद्र उर्फ लालू को काबू किया। एसीपी क्राइम प्रीतपाल सिंह ने बताया कि सभी 5 आरोपियों को अरेस्ट कर लिया गया है और गुरुवार को उन्हें कोर्ट में पेश कर न्यायिक हिरासत में भोंडसी जेल पहुंचा दिया गया है।

Digiqole Ad Digiqole Ad

PRIYANKA

Related post