मुस्लिम लड़की की हत्या पर भी क्या समाज उसे लव जिहाद का नाम देगा?

वैशाली में एक मुस्लिम लड़की की छेड़खानी का विरोध करने पर हत्या कर दी गई

लड़की की शादी की तैयारी करते हुए उस मां को क्या पता था कि एक दिन ऐसा आएगा जब उसे अपनी बेटी की अर्थी उठानी पड़ेगी। आए दिन महिलाओं पर अत्याचार बढ़ता ही जा रहा है और सरकार इस पर कोई ठोस कदम भी नहीं उठाती है। ना जाने कब तक इस देश को सुधारने के लिए मासूमों का बलिदान देना होगा।

बिहार: वैशाली में छेड़खानी का विरोध करने पर लड़की को जिंदा जलाया, 15 दिन बाद मौत - Bihar Vaishali Girl Burn Alive accused family protest - AajTak

हाल ही में एक मामला सामने आया है जहां छेड़खानी और यौन शोषण का विरोध कर रही है एक मुस्लिम लड़की को मिट्टी के तेल डाल  कर उसे आग के हवाले कर दिया गया। जो 15 दिन अस्पताल में जिंदगी और मौत के बीच जंग लड़ते रही फिर अपने जिंदगी से हार गई और उसकी मौत हो गई। लड़की की मां ने बताया कि 4 महीने बाद ही उसकी शादी होनी थी और आज यह दिन देखना पड़ गया। सतीश राय, विनय राय और उसके बेटे चंदन राय पर इस घटना को अंजाम देने का आरोप लगा है। मरने से पहले खुद पीड़िता ने अपने वीडियो में भी सतीश राय का नाम लेते हुए उस पर आरोप लगाए हैं।

247Groundnews.com वैशाली: जिंदा जलाई गई युवती की मौत के बाद 17वें दिन जागी पुलिस ने एक आरोपी को किया गिरफ्तार, एसएचओ सस्पेंड %

20 वर्षीय गुलनाज खातून को 2 हफ्ते से पहले ही अपराधियों ने जलाकर मार डाला। वह बृहस्पतिवार के दिन करीब 5:00 बजे कूड़ा फेंकने गई थी और रास्ते में ही उसे घात लगाए बैठे अपराधियों ने मिट्टी तेल छिड़ककर जला दिया। गुलनाज की छोटी बहन ने बताया कि मुख्य आरोपी सतीश राय, विनय राय और चंदन राय कई महीनों से उसकी बहन का पीछा कर रहे थे और छेड़खानी किया करते थे। इसी पर आपत्ति जताते हुए जब गुलनाज ने उन्हें रोकने की कोशिश की तो अपराधियों ने इस मामले को अंजाम दिया।

गुलनाज का भाई पटना में काम करता है। उसने यह जानकारी दी की 30 अक्टूबर की शाम 5:00 बजे जब उसकी बहन कूड़ा फेंकने के लिए घर से निकली थी तो घात लगाए अपराधियों का पीछा करने लगे और इसी का विरोध करने पर उसे जिंदा जला दिया गया। गुलनाज की मां एक दर्जी का काम करती थी और इसी में उनकी बेटी उनका मदद किया करती थी। मां ने कहा  बेटी की बहुत जल्द शादी भी होने वाली थी। परिवार ने आरोप लगाया है कि अभी तक इस मामले में कोई कार्यवाही नहीं की गई है और ना ही किसी की गिरफ़्तारी हुई है।


और पढ़ें :उत्तरप्रदेश में लगातार बढ़ रही रेप की घटनाएं ,नहीं थम रहीं उसकी वारदातें


सोशल मीडिया पर जस्टिस फॉर गुलनाज कर रहा है ट्रेंड

इस घटना के तुरंत बाद डेमोक्रेटिक चरखा के को-फाउंडर खालिद जमशेद पीएमसीएच पहुंचें और इलाज में मदद की। लेकिन फिर भी गुलनाज़ हमें छोड़कर चली गयी। न्याय दिलाने के लिए सोशल मीडिया पर तो लड़ाई शुरू ही हुई लेकिन साथ ही मीडिया प्रेशर भी बनाना शुरू किया गया। खालिद जमेशद फ़ौरन वैशाली एसपी से मिलें और तत्काल तौर थानाध्यक्ष को ना सिर्फ़ निलंबित करने के लिए दबाव बनाया बल्कि परिवार को भी सुरक्षा दिलवाने का काम किया।

(वैशाली एसपी के साथ महताब और ख़ालिद जमशेद.)

सोशल मीडिया पर गुलनाज को इंसाफ दिलाने के लिए मुहिम तेज हो गई है। जस्टिस फॉर गुलनाज ट्विटर पर ट्रेंड भी कर रहा है। यूजर्स वीडियो शेयर करते हुए उसे इंसाफ दिलाने की मांग कर रहे हैं वहीं दूसरी और नीतीश कुमार पर भी निशाना साधा गया है। कई यूजर्स यह भी लिख रहे हैं कि नीतीश कुमार को शपथ लिए कुछ वक्त भी नहीं हुआ और ऐसी घटनाएं सामने आने लगी है।

other cities News: बिहार: औरंगाबाद में प्रेमी जोड़े से बदसलूकी कर बनाया विडियो, लड़की के कपड़े उतरवाए - a case of molestation and abuse with a couple in aurangabad bihar | Navbharat Times

 

क्या मुस्लिम लड़की के मारे जाने पर उसे लव जिहाद का नाम दिया जाएगा

बता दें अभी तक मुख्यमंत्री इस पर चुप है और सामने आकर कोई बयान क्यों नहीं दे रहे? वीडियो में पीड़िता ने खुद मरने से पहले उन आरोपियों का नाम लिया लेकिन अभी तक पुलिस की तरफ से कोई कार्यवाही नहीं की गई है और ना ही उन तीनों में से किसी की भी गिरफ्तारी हुई है।

इस शर्मनाक अपराध के बाद कई लोग यह भी सवाल उठा रहे हैं कि क्या मुस्लिम लड़की के मारे जाने पर उसे लव जिहाद का नाम दिया जाएगा जैसा कि हिंदुओं में होता है। यह सवाल अपने आप में बेहद गंभीर हैं क्योंकि बेटियों की मौत जातिवादी और धर्म से कई ऊपर है। लोग इसे सांप्रदायिक मुद्दा तो बना देते हैं लेकिन समाज इंसानियत को भूल जाता है। किसी की ज़िंदगी धर्म से ऊपर नहीं हो सकती।

Digiqole Ad Digiqole Ad

Aparna Vatsh

Related post