शिलांग: हिन्दू समाज को क्रिसमस पर चर्च में जाने पर बजरंग दल ने बुरे अंजाम की दी धमकी

क्रिसमस पर चर्च में जाने पर बजरंग दल ने बुरे अंजाम की दी धमकी

विवादों में रहने वाली हिन्दू रक्षा संगठन बजरंग दल ने शुक्रवार को असम के सिलचर में एक बयान दिया है की अगर अगर 25 दिसंबर यानी क्रिसमस के दिन कोई भी हिन्दू चर्च में दिखा को उनकी बुरी तरह पिटाई की जायेगी।

सिलचर में बजरंग दल के जिला अध्यक्ष मिथुन नाथ ने कहा गुंडा कहलवाना मंजूर

5 reasons why Hindus needs Bajrang Dal & VHP more than ever | HMP.News

सिलचर के जिला अध्यक्ष मिथुन नाथ ने एक बयान देते हुए आरोप लगाया कि वह शिलांग में मंदिरों को लगातार बंद कर रहे है ऐसे में हम उनके साथ क्रिसमस कैसे मना सकते है। हम ऐसा बिल्कुल नहीं होने देंगे और जो भी ऐसा करने की कोशिश करेगा उसे ऐसा करने भी नहीं देंगे। आगे मिथुन नाथ ने कहा कि प्रेस हमे गुंडा गैंग कहती है यह हमे मंजूर है। क्योंकी कोई भी हिन्दू लड़कियों को छूने या परेशान करने की कोशिश करेगा तो हम उनके लिए गुंडा बन जाएंगे और हमे इसपर गर्व है।


और पढ़ें :महिलाओं के एक समूह ने मुस्लिम धर्म में एक से अधिक शादी को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी 


मंदिर बंद कर वहां कंप्यूटर शिक्षा प्रारंभ करने का लगाए आरोप

Bajrang Dal: Will beat up Hindus who visit Church on Christmas

जिला अध्यक्ष मंटू नाथ ने हाल ही में शिलांग में क्विंटन रोड स्थित विवेकानन्द कल्चरल सेंटर का हवाला देते हुए बताया कि उसे बंद किया जा रहा है। जबकि उनके इस दावे को खारिज करते हुए सेंटर के अध्यक्ष महाराज ने बताया कि यह बात बिल्कुल ग़लत है खासी छात्र संगठन ने मंदिर में ताला नहीं लगाया है। यहां कम्प्यूटर शिक्षा प्रारंभ की गई है लेकिन साथ ही कल्चरल सेंटर और मंदिर पहले की तरह चल रहे है।

26 दिसंबर की सुर्खियों में होगा बजरंग दल का नाम

Bajrang Dal workers & Dalits clash in Mau, 8 held: Police | Cities News,The Indian Express

दल की ओर से कहा गया की बजरंग दल के गुंडों ने ओरिएंटल स्कूल को तोड दिया यह हर अखबार ने खबर है लेकिन इससे हमे हमे कोई फर्क नहीं पड़ता। हम किसी भी कीमत पर हिंदुओ को क्रिसमस के कार्यक्रमों में शामिल होने नहीं देंगे। क्योंकि यहां हिंदू के मंदिरों के दरवाजे बंद किए जा रहे है।

बजरंग दल का विवादों से है पुराना नाता

Bajrang Dal activists beat up Sambhaji Brigade member in Pune - News Nation English

बजरंग दल को संघ परिवार और विश्व हिंदू परिषद की कड़ी का युवा चेहरा माना जाता है। इसकी शुरुआत 1 अक्टूबर 1984 में सबसे पहले भारत के उत्तर प्रदेश प्रान्त से हुई थी जिसके बाद इसका  पूरे भारत में विस्तार हुआ। बजरंग दल के दावे के अनुसार अभी इसके 2700000 सदस्य हैं जिनमें 2230000 कार्यकर्ता शामिल हैं। इसके प्रमुख शोहन सिंह सोलंकी है। बजरंग दल देशभर मैं अपने कार्यों की वजह से अक्सर विवादों में रहता है। चाहे वह वेलेंटाइन डे पर पार्क में पकड़े गए युवा जोड़ो की शादी करवा देना हो या अन्य मामले हो।

Digiqole Ad Digiqole Ad

democratic

Related post