बिहार में इस्तेमाल हुआ पीपीई किट उपयोग किया गया

बिहार में इस्तेमाल हुआ पीपीई किट उपयोग किया गया

बिहार के मुज़फ़्फ़रपुर में मुशहरी पीएचसी से कोरोना को लेकर बड़ी लापरवाही सामने आई है। दरअसल पीएचसी में इस्तेमाल किया गया पीपीई किट अक्सर खुले में फेंक दिया जाता है जिसका खतरनाक असर देखने को मिल रहा है। कोरोना से बचाव के लिए जहां एक तरफ पूरे देश में टीकाकरण का अभियान चालू होने वाला है तो वहीं दूसरी तरफ मुज़फ़्फ़रपुर के कुछ किसानों द्वारा पहले से इस्तेमाल की गई पीपीई किट खेतों में जंगली सूअर और नील गायों को भगाने के लिए किया जा रहा है। यह अपने आप में बेहद खतरनाक है क्योंकि इससे निश्चित रूप से कोरोना संक्रमण बढ़ेगा।इस मामले पर पीएचसी की बड़ी लापरवाही सामने आई है।

बिहार

बिहार में लगातार कोरोना संक्रमण में बढ़ोतरी

स्वास्थ्य विभाग की बड़ी लापरवाही से निश्चित तौर पर कोरोना संक्रमण बढ़ सकता है। मामले के उजागर होने के बाद भी स्वास्थ्य विभाग की ओर से कोई सतर्कता नहीं दिखाई दे रही है। आपको बता दें बिहार में लगातार कोरोना संक्रमण में बढ़ोतरी देखने को मिल रही है। बीते सोमवार को बिहार में 24 घंटे के अंदर कोरोनावायरस से 5 लोगों की मौत हुई। अब मरने वालों की संख्या बढ़कर 1439 हो गई है। वहीं दूसरी तरफ कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 2,56,991 हो गई है। 


और पढ़ें :विवेकानंद सेक्युलर इंसान होने के बावजूद इन्हें हिंदूवादी नेता बना दिया गया


24 घंटे के भीतर पांच लोगों ने दम तोड़ा

बिहार

स्वास्थ्य विभाग की ताजा जानकारी के मुताबिक बिहार में पिछले 24 घंटे के भीतर ही 5 लोगों ने कोरोना संक्रमण के वजह से दम तोड़ दिया। इनमें से एक मरीज सिवान, दो भोजपुर, पटना एवं सराय के एक-एक मरीज थे। राज्य में 24 घंटे के भीतर कोरोना के 213 नए मामले दर्ज किए गए। बिहार में 24 घंटे के भीतर 80,300 सैंपल की जांच हुई। हालांकि दूसरी तरफ खुशी की बात यह भी है कि 24 घंटे के भीतर ठीक होने वालों की संख्या 378 तक पहुंच गई है।

वर्तमान पर नजर डाली तो फिलहाल बिहार में कोरोना संक्रमण के एक्टिव केस 3907 है और साथ ही कोरोना मरीज का रिकवरी रेट 97.92 प्रतिशत तक बढ़ गया है। सरकार को अभी और सावधानी बरतने की जरूरत है नहीं तो संक्रमण पर काबू पाना काफी मुश्किल हो जाएगा। बिहार में जल्दी ही कोरोना ‌टीकाकरण का अभियान भी शुरू होने वाला है।

Digiqole Ad Digiqole Ad

Aparna Vatsh

Related post