अगर जंगलराज को ही याद करना था तो फिर जनता ने आपको मुख्यमंत्री क्यों बनाया?

नीतीश कुमार भड़क उठे रूपेश सिंह के केस पर सवाल पूछे जाने पर

एयरपोर्ट मैनेजर की हुई हत्या और बिहार में बढ़ रहें अपराधों को लेकर तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि बिहार में अपराधी ही सरकार चला रहे हैं। कारण बिहार राज्य में वर्ष 2020 के जनवरी से लेकर सितंबर तक लगभग 2406 मर्डर केस और 1106 रेप की वारदातें रिकॉर्ड किए गए हैं। इतना ही नहीं स्टेट क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो के द्वारा दिए गए आंकड़ों के मुताबिक हर दिन करीबन 9 मर्डर केस और चार रेप की घटना बिहार में देखी गई है और तो और नई सरकार आने से राज्य में अपराध रुकने के बजाय बढ़ती नज़र आ रही है।

नीतीश कुमार

ग़ौरतलब है कि बिहार में इन दिनों अपराध की घटनाएं लगातार ही सामने आ रही है। जिस कारण से कुछ दिनों पहले ही तेजस्वी यादव ने बिहार में बढ़ते अपराधों को लेकर नीतीश कुमार सरकार पर निशाना साधते हुए यह कहा था कि बिहार में अपराधी जितना अधिक तांडव मचाएंगे उधर उतना ही नाीतीश कुमार के पांच पांडव मौज मनाएंगे।

एयरलाइन के मैनेजर की हत्या के घटना पर सवाल पूछने पर,मीडिया पर उतारा नीतीश कुमार ने गुस्सा 

नीतीश कुमार

दरसअल शुक्रवार को बिहार के पथ निर्माण मंत्री मंगल पांडे और डिप्टी सीएम तारकेश्वर प्रसाद और रेनू देवी की मौजूदगी में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा दीघा से आर ब्लॉक पर बने सिक्स लेन सड़क का उद्घाटन किया गया। समारोह के बाद जब मुख्यमंत्री से पत्रकारों द्वारा इंडिगो के स्टेशन मैनेजर रूपेश सिंह के मर्डर केस के बारे में सवाल किया गया तब वे भड़क उठे। बता दें कि पत्रकारों ने यह सवाल किया था कि रूपेश सिंह की हत्याकांड के बाद अभी तक क्यों पुलिस के हाथ खाली हैं। इसके बाद पत्रकारों ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से बिहार में लगातार बढते क्राइम पर भी सवाल किया था। जिसके बाद नीतीश कुमार ने साल 1990 में सत्ता में रह चुके लालू प्रसाद यादव और राबड़ी देवी पर तिरछा निशाना साधते हुए पत्रकारों से कहा कि पति-पत्नी के अंडर में कितना अपराध किया जाता था आपके द्वारा उसे क्यों नहीं हाईलाइट किया जाता है?


और पढ़ें : कौन थी क्रांतिकारी रोज़ा लक्सम्बर्ग जिनसे फ़ासीवाद नाज़ी सेना डरती थी


मुख्यमंत्री ने इंडिगो के मैनेजर रूपेश कुमार सिंह की हत्या को लेकर किए गए प्रश्नों को कहा गलत एवं अनुचित

नीतीश कुमार

बिहार के मुख्यमंत्री के आवास से लगभग 2 किलोमीटर दूरी पर मंगलवार को हुई इंडिगो के मैनेजर रूपेश कुमार सिंह की हत्या को लेकर पत्रकारों द्वारा पूछे जा रहे प्रश्नों को मुख्यमंत्री ने गलत एवं अनुचित बताया है। उन्होंने पत्रकारों से कहा अगर आपके पास सबूत है तो कृपया कर उसे पुलिस को दीजिए। भड़कते हुए उन्होंने कहा कि इस घटना को अपराध नहीं कहिए कारण हत्या की गई है और जिसके पीछे ज़रूर कोई वजह है।

पुलिस द्वारा मामले की जांच जारी है। दरसअल रूपेश सिंह (38) घटना के समय यानी मंगलवार देर शाम अपने घर के गेट के बाहर अपनी SUV में मौजूद थें एवं तभी बाइक सवार दो लोगों ने रूपेश की गोली मारकर हत्या कर दी एवं जब इलाज के लिए उन्हें एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया तो दुर्भाग्यवश रूपेश सिंह ने वहीं दम तोड दिया। घटना के बाद से ही नीतीश कुमार की सरकार में क़ानून व्यवस्था को लेकर गंभीर सवाल खड़े किए जा रहे हैं।

लेकिन जब हर सवाल का जवाब जंगलराज है तो फिर आपके मुख्यमंत्री रहने का क्या फ़ायेदा?

बिहार में जिस तरीके से क्राइम रेट बढ़ता जा रहा है उसके जवाब में नीतीश कुमार सिर्फ़ और सिर्फ़ जंगलराज की ही याद दिलाते रहते हैं।  बिहार राज्य में वर्ष 2020 के जनवरी से लेकर सितंबर तक लगभग 2406 मर्डर केस और 1106 रेप की वारदातें रिकॉर्ड किए गए हैं। लेकिन इसके बाद भी नीतीश कुमार हर सवाल से बचना चाहते हैं और उनके जवाब में सिर्फ़ एक ही पैटर्न रहता है. वो है, जंगलराज. 

Digiqole Ad Digiqole Ad

PRIYANKA

Related post