जो बच्चे देख नहीं पाते हैं उनसे बिहार सरकार ने आंखें फेर ली है

बिहार नेत्रहीन परिषद् जो नेत्रहीन बच्चों के लिए काम करते हैं उनका साफ़ तौर से कहना है कि नेत्रहीन बिहार सरकार का वोटबैंक नहीं है इसीलिए सरकार को इनकी कोई चिंता नहीं है. देखिये अनुप्रिया की रिपोर्ट.

Digiqole Ad Digiqole Ad

democratic

Related post