देश में कोरोना रिकवरी रेट 51.08 फ़ीसद, ठीक हुए मरीजों की संख्या सक्रिय मामलों से ज़्यादा

देश में अब ठीक हुए मरीजों की संख्या सक्रिय मामलों से ज़्यादा हो गई है. भारत सरकार के अनुसार देश में पिछले 24 घंटों के अंदर 7419 कोरोना संक्रमितों को इलाज के बाद डिस्चार्ज किया जा चुका है, और देश में अब तक कुल 1,69,797 कोरोना संक्रमितों को इलाज के बाद ठीक किया जा चुका है. देश में कोरोना का रिकवरी दर 51.08 फीसद हो गया है. कोरोना के इन आंकड़ों से पता चलता है कि देश में अब कोरोना से सही होने वाले लोगों की संख्या कोरोना संक्रमितों से आधे से ज़्यादा हो गई है.

हमारे देश में अब तक कोरोना संक्रमित के कुल 3,32,424 मामले सामने आ चुके हैं. देश में कोरोना से मौत का आंकड़ा 9,520 तक पहुंचा है और एक तरफ देश में कोरोना से ठीक हुए मरीजों की संख्या बढ़कर 1,69,798 तक पहुंच गई है, वहीं सक्रिय मामलों की संख्या 1,53,106 है.

बिहार के स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि बिहार मे covid ​​-19 के कारण हुई मौत सोमवार को दो और घायलों के साथ बढ़कर 38 हो गई, जबकि 187 ताज़ा मामलों में राज्य की स्थिति 6,581 हो गई.

बिहार में सोमवार को कोरोना के 3495 सैंपल की जांच में 5.35 फीसद रिपोर्ट पॉज़िटिव आई हैं, यानी कुल 187 नए संक्रमित मिले जिसके बाद राज्य में कोरोना संक्रमितों की संख्या 6662 हो गई है. इधर 24 घंटे में और 251 कोरोना संक्रमित महामारी को मात देने में सफल रहे हैं. अब तक कुल 4226 संक्रमित इस बीमारी से मुक्त हुए हैं. सोमवार को तीन और कोरोना संक्रमित की मौत हुई है.

राज्य के स्वास्थ्य सचिव लोकेश कुमार सिंह ने सोमवार को बताया कि आज कुल 3495 सैंपल की जांच में 34 जिलों से 187 रिपोर्ट पॉजिटिव मिली हैं. इनमें मुजफ्फरपुर से 18, पूर्वी चंपारण से 12, मधुबनी से 12, अररिया से एक, अरवल से तीन, औरंगाबाद से सात, बांका से दो, बेगूसराय से 10, भागलपुर से एक, दरभंगा से 14, गया से छह, जहानाबाद से चार, कैमूर से एक, खगडिय़ा से दो, किशनगंज से चार, मधेपुरा से तीन, नालंदा से तीन, नवादा से दो, पूर्णिया से 22, सहरसा से आठ, समस्तीपुर से एक, शिवहर से एक, सीतामढ़ी से एक, सुपौल से पांच और पश्चिम चंपारण से सात हैं. इनके अलावा पटना से एक, जमुई से दो, कटिहार से चार, मुुंगेर से एक, रोहतास से एक, सारण से तीन, शेखपुरा से पांच, सिवान से 16 और वैशाली से दो संक्रमित मिले हैं.

-अनुकृति प्रिया

निष्पक्ष और जनहित की पत्रकारिता ज़रूरी है

आपके लिए डेमोक्रेटिक चरखा आपके लिए ऐसी ग्राउंड रिपोर्ट्स पब्लिश करता है जिससे आपको फ़र्क पड़ता है
हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.