tejaswi yadav
Politics

तेजस्वी यादव ने किया बिहार चुनाव में दो तिहाई सीट जितने का दावा

बिहार विधानसभा चुनाव के लिए आज यानी 28 अक्टूबर को पहले चरण के लिए मतदान होने वाली है। इस बार के चुनाव में एक तरफ भाजपा, जदयू और अन्य दलों (राजग) गठबन्धन है जिसके मुख्यमंत्री उम्मीदवार माननीय नीतीश कुमार है। वहीं इस बार इनके खिलाफ राजद, कांग्रेस और वाम दल मिलकर चुनाव मैदान में उतरे हैं। जिनके तरफ से मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार तेजस्वी यादव है।

tejaswi yadav
Tejaswi Yadav
बिहार विधानसभा चुनाव में तेजस्वी यादव ने कहा सरकार आने पर युवाओं को देंगे नौकरी 

तेजस्वी यादव ने ‘पीटीआई-भाषा’ को एक  साक्षात्कार दिया है जिसमें उन्होंने बिहार विधानसभा चुनाव में महागठबंधन को दो तिहाई बहुमत मिलने की उम्मीद जताते हुए  कहा कि “सरकार बनने के बाद युवाओं को नौकरियां देना उनकी सर्वोच्च प्राथमिकता होगी तथा विधानसभा के पहले सत्र में केंद्रीय कृषि कानूनों को निष्प्रभावी बनाने के लिए विधेयक पारित किया जाएगा।”

बिहार चुनाव में तेजस्वी यादव ने कहा 

तेजस्वी यादव ने  इस बात पर जोर भी जोर दिया कि इस विधानसभा चुनाव में ज्यादातर सीटों पर राजग उम्मीदवारों की जमानत जब्त हो जाएगी। और 10 नवंबर को यानी चुनाव नतीजे के बाद  बिहार एक नए सवेरे का साक्षी बनेगा। उन्होंने दावा किया कि बिहार विधानसभा चुनाव के इतिहास में ऐसा पहले बार हो रहा है, जब युवाओं से यह वादा किया गया है कि कैबिनेट की पहली बैठक में पहली कलम से 10 लाख नौकरियां दी जाएंगी।

तेजस्वी ने कहा कि “हमारी सरकार एक जिम्मेदार सरकार होगी जो एक प्रतिक्रियाशील प्रशासन देगी। रोजगार, स्वास्थ्य, शिक्षा, उद्योग ऐसे क्षेत्र जिनकी नीतीश कुमार के 15 वर्षों के शासन में उपेक्षा की गई, हम इन क्षेत्रों का पुनरुत्थान और कायापलट करेंगे।”

लोक जनशक्ति पार्टी के अध्यक्ष चिराग पासवान के साथ चुनाव बाद गठबंधन की संभावना से जुड़े सवाल पर उन्होने सीधे उत्तर  दिया कि “चिराग पासवान पहले ही स्पष्ट कर चुके हैं कि वह भाजपा के साथ हैं और नीतीश की जगह भाजपा का मुख्यमंत्री देखना चाहते हैं।”

न जात न पात इस बार वोट सिर्फ नौकरी के नाम पर दे: तेजस्वी यादव

राजद का एआईएमआईएम, बसपा और रालोसपा के गठबंधन के सवाल पर उन्होंने कहा कि   “बिहार में सबसे ज्यादा राजनीतिक जागरुकता है तथा भाजपा के इन ‘ए, बी, सी पैराशूट गठबंधनों’ का इस चुनाव में कोई असर नहीं होगा। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को लेकर लोगो में  घोर नाराजगी है और यह स्थिति उनकी सत्ता की लालसा और कोविड महामारी के समय बेरोजगारों, मजदूरों और गरीबों के प्रति भेदभावपूर्ण रवैये के कारण पैदा हुई है।”

मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार तेजस्वी  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा  चुनाव प्रचार करने से राजग को फायदा मिलने के सवाल पर कहा कि  बिहार की 12 करोड़ से अधिक जनता ने तय कर लिया है कि उन्हें बेरोजगारी, पलायन, भ्रष्टाचार, गरीबी और महंगाई जैसे जीवन के असल मुद्दों पर वोट करना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *