एक बार फिर उठ रही है विशेष राज्य के दर्जे की मांग, बजट से पहले JDU ने केंद्र से ये कहा

आने वाले केंद्रीय बजट के पहले बिहार में विशेष राज्य के दर्जे की मांग को हर एक पार्टी की तरफ से उठाया जा रहा है. जिसमें हम(सेकुलर), जदयू और लोजपा  की ओर से भी सहमति जताई जा रही है.

New Update
विशेष राज्य के दर्जे की मांग

विशेष राज्य के दर्जे की मांग

बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दिलाने की मांग सालों से उठ रही है, यह मांग इन दिनों और तेज होती जा रही है. दरअसल आने वाले केंद्रीय बजट के पहले बिहार में विशेष राज्य के दर्जे की मांग को हर एक पार्टी की तरफ से उठाया जा रहा है. जिसमें हम(सेकुलर), जदयू और लोजपा  की ओर से भी सहमति जताई जा रही है.

Advertisment

विशेष राज्य के दर्जे को लेकर जदयू मंत्री अशोक चौधरी ने बुधवार को एक बड़ा बयान दिया, उन्होंने कहा कि हम लोग बजट को लेकर आशान्वित है. विशेष राज्य का दर्जा पैकेज की तरह होता है, राज्यों को इसमें 10% का कॉन्ट्रिब्यूशन करना होता है जबकि 90% भारत सरकार देती है. लेकिन इसके बिना 50-50 कंट्रीब्यूशन देना पड़ता है. अगर हमें विशेष राज्य का दर्जा नहीं दिया गया, परिस्थितियों ऐसी नहीं बनी तो हम कम से कम विशेष पैकेज की मांग रखना चाहते हैं.

उन्होंने आगे कहा कि बिहार सीमित संसाधनों के बावजूद सीएम नीतीश कुमार के नेतृत्व में आगे बढ़ रहा है. बावजूद इसके हमारे राज्य किसी विकसित प्रदेश से काम नहीं है.

जदयू नेता विजय चौधरी ने भी कहा कि राज्य के पास ऐतिहासिक या भौगोलिक संसाधनों की कमी है. हमारे यहां ना तो खदानें हैं ना हीं समुद्र तट ना ही राज्य में सोने या हीरे की खदान है. कुछ के पास समुद्री तट है, यह उनके सरकार और जनता की उपलब्धि नहीं है बल्कि भौगोलिक वरदान है. हमें आर्थिक सहायता की आवश्यकता है, ताकि हम अपने पिछड़ेपन को दूर कर सके.

Advertisment

एक तरफ जहां जदयू नेता ने कहा कि बिहार को विशेष पैकेज की आवश्यकता है, तो वहीं दूसरी ओर हम ने भी इसका समर्थन करते हुए कहा कि इसके बिना हम विकास नहीं कर पा रहे हैं. हम नेता और बिहार के मंत्री संतोष मांझी ने कहा है कि आज विशेष राज्य का दर्जा बिहार की मांग है. एक बिहारी होने के नाते मैं भी इस मांग को रखता हूं या फिर आर्थिक पैकेज बिहार को दिया जाए, ताकि इससे राज्य का विकास हो सके.

Bihar special status demand Chirag Paswan on Bihar special status demand Bihar NEWS JDU demands special status for Bihar