गैंगस्टर मुख्तार अंसारी की मौत, जेल में जहर देने का आरोप, पोस्टमार्टम के बाद बेटे को सौंपा जाएगा शव

यूपी के डॉन मुख्तार अंसारी की बांदा जेल में तबीयत खराब होने से मौत हो गई है. मौत का कारण कार्डियक अरेस्ट बताया जा रहा है. यूपी पुलिस ने अंसारी की मौत के बाद मऊ में सीआरपीसी की धारा 144 लागू की गई है.

New Update
गैंगस्टर मुख्तार अंसारी की मौत

गैंगस्टर मुख्तार अंसारी की मौत

उत्तर प्रदेश के बांदा जेल में कुख्यात डॉन की गुरुवार की रात मौत हो गई. यूपी के डॉन मुख्तार अंसारी की बांदा जेल में तबीयत खराब होने से मौत हो गई है. खबरों के मुताबिक बांदा जेल में मुख्तार अंसारी की तबीयत बिगड़ गई थी, जिसके बाद अंसारी को बांदा मेडिकल कॉलेज में इलाज के लिए भर्ती कराया गया था. मेडिकल कॉलेज में इलाज के दौरान ही उसकी मौत हो गई, मौत का कारण कार्डियक अरेस्ट बताया जा रहा है.

Advertisment

खबरों के मुताबिक गुरुवार की रात अंसारी ने खिचड़ी खाई थी, जिसके बाद उसे खून की उल्टी होने की भी चर्चा है. लेकिन इस बात की आधिकारिक पुष्टि अभी नहीं हुई है.

गैंगस्टर अंसारी की मौत के बाद यूपी में हाई अलर्ट जारी किया गया है. सभी जिलों में पुलिस का पहरा बढ़ा दिया गया है. इसके अलावा यूपी पुलिस ने मऊ और बंदा समेत कई जिलों में फ्लैग मार्च किया है. मऊ में सीआरपीसी की धारा 144 लागू की गई है.

गैंगस्टर अंसारी के शव को कड़ी सुरक्षा के बीच आपातकालीन वार्ड से निकालकर एंबुलेंस से रवाना किया गया है. आज ही अंसारी के शव का पोस्टमार्टम किया जाएगा. परिजनों के पहुंचने पर शव का पोस्टमार्टम होगा. पोस्टमार्टम के दौरान वीडियोग्राफी भी होगी.

Advertisment

समाजवादी पार्टी ने अंसारी की मौत पर जताया दु:ख

मुख्तार अंसारी की मौत के बाद समाजवादी पार्टी ने अंसारी की मौत पर दु:ख जताया है. पार्टी ने सोशल मीडिया हैंडल एक्स पर लिखा गया है कि पूर्व विधायक श्री मुख्तार अंसारी जी का इंतकाल दु:खद है. ईश्वर उनकी आत्मा को शांति दे. शोकाकुल परिजनों को यह असीम दु:ख सहने का संबल प्राप्त हो. विनम्र श्रद्धांजलि.

बता दें कि 60 वर्ष के मुख्तार अंसारी ने अदालत में यह आरोप लगाया था कि जेल में उसकी हत्या का प्रयास किया जा रहा है. अंसारी ने कहा था कि उसे खाने में धीमा जहर दिया जा रहा है, जिससे उसकी तबीयत दिन-ब-दिन बिगड़ती जा रही है. इस मामले में एमपी एमएलए कोर्ट ने जेल प्रशासन से रिपोर्ट भी मांगी थी. अंसारी को जहर दिए जाने का आप परिवार वालों ने भी लगाया है.

19 साल से ज्यादा वक्त जेल में गुजारने वाला मुख्तार अंसारी यूपी के प्रतिष्ठित परिवार से ताल्लुक रखता था. मुख्तार अंसारी के दादा डॉक्टर मुख्तार अहमद अंसारी स्वतंत्रता सेनानी थे. मुख्तार अंसारी पांच बार का विधायक रह चुका है, उसके ऊपर 59 केस दर्ज थे. इसके अलावा मुख्तार की पत्नी आफशां अंसारी के ऊपर 11 केस दर्ज है, आफशां इस समय फरार है. अब्बास अंसारी मुख्तार अंसारी का बड़ा बेटा है, जिस पर 8 केस दर्ज है. इस वक्त वह काशगंज जेल में बंद है. उमर अंसारी मुख्तार का छोटा बेटा, जिसपर जलसाजी, अवैध कब्जे का आरोप है. उमर इस समय फरार है. इसके अलावा ने निखत अंसारी अब्बास अंसारी की पत्नी पर आरोप है कि उसने अब्बास को जेल से भागने की कोशिश की थी. फिलहाल निखत जमानत पर बाहर है. मुख्तार अंसारी के भाई अफजल अंसारी पर 6 केस दर्ज है. सिबगतुल्लाह अंसारी मुख्तार अंसारी का भाई हैं, यह पूर्व विधायक रह चुका है.

Gangster Mukhtar Ansari UP Police UP Banda jail Mukhtar Ansari Death