पटना में सैकड़ों छात्रों ने घेरा बीजेपी-जेडीयू दफ्तर, जानें क्या है पूरा मामला

सरकार ने नई शिक्षा नीति के तहत 11वीं की पढ़ाई को अब कॉलेज में ना होने के बजाय स्कूलों में कराने का निर्णय लिया है. नए नीति का विरोध करने के लिए सैकड़ों छात्रों ने आज JDU-BJP कार्यालय का घेराव किया.

New Update
पटना में जदयू कार्यालय के बाहर प्रदर्शन

पटना में जदयू कार्यालय के बाहर प्रदर्शन

गुरुवार को पटना के जदयू और भाजपा कार्यालय के बाहर बड़ी संख्या में छात्र-छात्राओं ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी की. सैकड़ों की संख्या में प्रदर्शन कर रहे छात्र नई शिक्षा नीति में बदलाव के लिए सरकार से मांगे कर रहे थे. बताया जा रहा है कि यह सभी छात्र 11वीं कक्षा में पढ़ने वाले हैं, कॉलेज से स्कूल में ट्रांसफर करने के बाद कई अलग-अलग कॉलेज के छात्र छात्राओं ने इसका विरोध प्रदर्शन किया.

Advertisment

 भारी संख्या में छात्रों के प्रदर्शन को हटाने के लिए पुलिस मौके पर पहुंची और सभी को समझाने का प्रयास भी किया, लेकिन छात्र अपनी मांगों को लेकर अड़े रहे. इस दौरान कुछ पुलिसकर्मियों और छात्राओं के बीच में हाथापाई की भी बात सामने आ रही है.

11वीं कक्षा की पढ़ाई कॉलेजों में न होकर स्कूलों में

छात्रों के प्रदर्शन को देखते हुए पुलिस ने सभी की फोटो खींचकर एफआईआर दर्ज करने की भी बात कही, तब भी प्रदर्शन कर रहे हैं छात्र-छात्राओं को डर नहीं लगा और वह अपनी मांगों पर खड़े रहे.

Advertisment

दरअसल सरकार ने नई शिक्षा नीति के तहत 11वीं की पढ़ाई को अब कॉलेज में ना होने के बजाय स्कूलों में कराने का निर्णय लिया है. जिसके बाद प्रदेश में काफी महाविद्यालय और डिग्री कॉलेज जहां 11वीं और 12वीं की पढ़ाई होती है उन सभी छात्रों को स्कूल भेजा जा रहा है. इसी फैसले के विरोध में छात्र-छात्राओं ने विरोध प्रदर्शन किया. 

छात्र-छात्राओं के प्रदर्शन के दौरान भाजपा और जदयू कार्यालय के बाहर काफी देर तक जाम लगा रहा. रोड पर गाड़ियों की लंबी कतार भी इस दौरान देखी गई. पुलिस ने प्रदर्शन करने वाले चार छात्रों को हिरासत में भी लिया है, छात्रों के गिरफ्तारी के बाद समर्थन में कई छात्रों ने इसका विरोध किया.

इस पूरे मामले पर शिक्षा मंत्री सुनील कुमार ने कहा कि मामला आज ही संज्ञान में आया है. सरकार ने जो पहले निर्णय लिए थे, उसमें सुधार कराया जाएगा. पहले क्या फैसला दिए गए थे और उनमें किन सुधारो की जरूरत है यह देखने के बाद फ़ैसला होगा. वहीं डिप्टी सीएम सम्राट चौधरी ने छात्रों से मुलाकात का भरोसा दिया है.

तीन दिनों पहले भी एएन कॉलेज के बाहर छात्रों ने अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन किया था. 1 घंटे तक एएन कॉलेज के बाहर लंबा सड़क जाम रहा था.

BJP JDU office patna students protest intermediate students protest in patna