Motihari News: कुख्यात अपराधी कुणाल सिंह को आजीवन कारावास, जाने पूरा मामला

Motihari News: पूर्वी चंपारण के कुख्यात अपराधी कुणाल सिंह को बुधवार को कोर्ट ने आजीवन कारावास की सजा सुनाई है. एक-47 रखने के सहित दर्जनों मामले में कुणाल सिंह को कोर्ट ने सजा सुनाई है.

New Update
कुणाल सिंह को आजीवन कारावास

कुणाल सिंह को आजीवन कारावास

पूर्वी चंपारण के कुख्यात अपराधी कुणाल सिंह को बुधवार को कोर्ट ने आजीवन कारावास की सजा सुनाई है. एक-47 रखने के मामले में कुणाल सिंह को कोर्ट ने सजा सुनाई, इसके साथ ही कोर्ट ने कुणाल सिंह पर 42 हजार जुर्माना भी लगाया गया है. बुधवार को जिला एवं सत्र न्यायाधीश देवराज त्रिपाठी की अदालत ने कुणाल सिंह को सजा सुनाई.

Advertisment

आर्म्स एक्ट में आजीवन कारावास

मोतिहारी अपर लोक अभियोजन सुभाष चंद्र यादव ने 11 गवाहों को कोर्ट में पेश किया था. बचाव पक्ष की ओर से वकील कन्हैया प्रसाद सिंह ने भी पक्ष रखा. कोर्ट की कार्यवाही में 7 मई को कुख्यात कुणाल सिंह को कोर्ट ने दोषी करार कर दिया और 8 मई को इस मामले में फैसला सुनाया गया. कोर्ट ने आधा दर्जन आपराधिक मामले और आर्म्स एक्ट के मामले में भी कुणाल सिंह को दोषी ठहराया है. तीन अलग-अलग मामलों में सजा सुनाई गई है. एक केस में 5 साल, तो दूसरे केस में 7 साल और एक-47 रखने के मामले में आजीवन कारावास की सजा कुणाल सिंह को हुई है.

कुणाल सिंह का आपराधिक इतिहास

Advertisment

कुणाल सिंह का पुराना आपराधिक इतिहास रहा है. 2017 में मोतीहारी पुलिस ने कुणाल सिंह को गिरफ्तार कर जेल भेजा था, जिसके बाद जमानत पर न्यायालय से बाहर निकलने के बाद कुणाल सिंह फरार हो गया था. इसके बाद तत्कालीन एसपी उपेंद्र शर्मा के नेतृत्व में पुलिस ने छापेमारी की और कुणाल सिंह गैंग के साथ मुठभेड़ किया. इस मुठभेड़ में दो अपराधियों को गोली लगी थी वहीं मुख्य आरोपी कुणाल अंधेरे का फायदा उठाते हुए फरार हो गया था. हालांकि बाद में पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर कुणाल सिंह के उसके घर से पकड़ लिया था.

कुणाल सिंह पर कई थानों में 17 हत्या, रंगदारी, उत्पाद विभाग की टीम पर जानलेवा हमला जैसा मामला दर्ज है. जिसमें से हरपुर नाग मुखिया के पति वीरेंद्र ठाकुर की हत्या के बाद कुणाल सिंह का नाम कुख्यात अपराधियों में शुमार हो गया था. रक्सौल के एक निजी स्कूलों पर दिनदहाड़े एक-47 से अंधाधुंध फायरिंग भी कुणाल सिंह ने की थी. बेतिया कोर्ट में घुसकर बबलू दुबे की कोर्ट की पेशी के दौरान उसकी भी गोली मारकर कुणाल ने हत्या कर दी थी. 

पुलिस ने कुणाल सिंह के घर से एक-47 राइफल, 25 राउंड गोली के साथ मैगजीन, 9 एमएम विदेशी पिस्टल, 9 एमएम की दो मैगजीन के साथ 20 से जिंदा कारतूस और वॉकी टॉकी बरामद किए थे.

Bihar NEWS motihari news Kunal Singh Life impriosnment