मुकेश सहनी का अमित शाह से सवाल- 10 साल में क्यों नहीं लागू किया मंडल कमीशन?

मुकेश सहनी ने अमित शाह के मंडल कमीशन वाले बयान पर पलटवार किया है. वीआईपी प्रमुख ने कहा कि 10 सालों से आपलोग सरकार चला रहे थे, क्यों नहीं मंडल कमीशन को लागू किया? 10 सालों से आप ताली बजा रहे थे क्या?

New Update
मुकेश सहनी का शाह से सवाल

मुकेश सहनी का शाह से सवाल

लोकसभा चुनाव को लेकर देशभर में राजनीती गरमाई हुई है. इस चुनाव में नेताओं की तरफ से बयान बाजियां भी लगातार चल रही हैं. बिहार में भी बयानों का सिलसिला अभी जारी है. इसी बयानों के बीच पटना में विकासशील इंसान पार्टी(वीआईपी) के प्रमुख ने गृह मंत्री को लेकर विवादित बयान दे दिया है. वीआईपी प्रमुख मुकेश सहनी ने गृह मंत्री अमित शाह को लेकर बयान दिया है.

Advertisment

सोमवार को झंझारपुर में अमित शाह ने रैली के दौरान मंडल कमीशन पर बयान दिया था. दरअसल अमित शाह ने कहा था कि मंडल कमीशन लागू ना करने का जिम्मेदार कांग्रेस है. जिस पर अब महागठबंधन में शामिल मुकेश सहनी ने अमित शाह पर निशाना साधा है. मुकेश सहनी ने कहा कि 10 सालों से आपलोग सरकार चला रहे थे, क्यों नहीं मंडल कमीशन को लागू किया? 10 सालों से आप ताली बजा रहे थे क्या? आपकी सरकार की रिपोर्ट थी, फिर उसे लागू क्यों नहीं किया गया?

मुकेश सहनी ने आगे कहा कि 10 साल से नरेंद्र मोदी देश के प्रधानमंत्री हैं. उन्हें बताना चाहिए कि उन्होंने 10 सालों में क्या काम किया. 10 साल में सिर्फ भाइयों-बहनों सुनने को मिला है, मुद्दे की बात की ही नहीं गई है. फिर से पीएम बनने के लिए केवल झूठ बोला जा रहा है.

कर्नाटक की सभा से पीएम मोदी ने भाषण देते हुए कहा था कि ओबीसी आरक्षण छीन कर मुसलमान को देने की कोशिश विपक्ष कर रहा है. इस पर भी वीआईपी प्रमुख ने कहा कि ऐसा कुछ नहीं है, पीएम इतना झूठ बोलते हैं कि हमलोगों को शर्म आती है.

बेगूसराय सांसद गिरिराज सिंह को भी निशाने पर लेते हुए मुकेश सहनी ने कहा कि पहली बार गिरिराज सिंह ने ऐसा बयान नहीं दिया है. उनके जैसे नेता भाजपा में शामिल है, जो हमेशा इस तरीके का बयान देते हैं. भाजपा नफरत की राजनीति करते हुए आई है. दरअसल गिरिराज सिंह ने कहा था कि आज जमींदार की भूमिका में सरकारी संरक्षण में वक्फ बोर्ड है. उनके ऊपर कोई बंदिश नहीं है. हमारे मंदिरों को स्वतंत्र करो, उन्हें मस्जिद और वक्फ की तरह स्वतंत्र करने की जरूरत है. यह मांग धार्मिक केन्द्रों से सनातन को बचाने के लिए जरूरी है और मैं इसका समर्थन करता हूं, क्योंकि अब मंदिरों के ऊपर बंदिश नहीं रहे.

Mukesh Sahni on Amit Shah Mukesh Sahni on Mandal Commission Mandal Commission report