बिहारवासियों को मिली करोड़ों रुपये की सौगात, नीतीश कुमार ने 28 पुल सहित 3618 योजनाओं का किया उद्घाटन

बुधवार को सीएम नीतीश कुमार ने 4446.188 करोड रुपए की लागत से बने 3590 पथो और 28 पुलों का उद्घाटन किया. इन योजनाओं में मुख्यमंत्री ग्राम संपर्क परियोजना के 1583 पथों और 11 पुलों का उद्घाटन हुआ है.

New Update
सीएम ने 28 नए पुलों की दी सौगात

सीएम ने 28 नए पुलों की दी सौगात

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बुधवार को एक आणे मार्ग स्थित "संकल्प" से ग्रामीण कार्य विभाग के करोड़ों रुपए की योजनाओं का उद्घाटन किया है. बुधवार को 4446.188 करोड़ रुपए की लागत से बने 3590 पथो और 28 पुलों का उद्घाटन सीएम नीतीश कुमार ने किया है. यानी सीएम ने आज कुल 3618 योजनाओं का उद्घाटन किया है. 

Advertisment

इन योजनाओं में मुख्यमंत्री ग्राम संपर्क परियोजना के तहत 1735.814 करोड़ रुपए की लागत से 1583 पथों और 11 पुलों का उद्घाटन किया है. इसके अलावा मुख्यमंत्री ने ग्रामीण पथ नवीनीकरण कार्यक्रम के तहत 2576.070 की लागत से बने 1977 पथों और राज्य योजना के अंतर्गत 134.304 करोड़ रुपए की लागत से 30 पथों और 17 पुलों का उद्घाटन किया है.

नीतीश सरकार के आने से राज्य में सड़कों और पुलों का निर्माण

ग्रामीण कार्य विभाग का बजट साल 2007-08 में 1390 करोड़ रुपए था, जो 2023- 24 में बढ़कर 11569 करोड़ रुपए हुआ. 2005 में सीएम नीतीश सरकार के आने के बाद से राज्य में सड़कों और पुलों का निर्माण काफी तेजी से बढ़ा है. राज्य के सुदूर इलाकों से राजधानी पटना को जोड़ने के लिए सीएम ने कई फोरलेन का निर्माण करवाया है, जिससे 6 घंटे के अंदर जिलों से राजधानी पहुंचने के लिए सड़क तैयार किया गया है. 

Advertisment

ग्रामीण कार्य विभाग के द्वारा मुख्यमंत्री ग्राम संपर्क योजना, ग्रामीण टोला संपर्क निश्चय योजना, मुख्यमंत्री ग्रामीण पथ अनुसरण कार्यक्रम का काम चल रहा है. कम आबादी वाले बसावटों एवं टोलों में सामाजिक और आर्थिक दृष्टिकोण से पिछड़े हुए लोगों को सुलभ संपर्कता पहुंचने के लिए योजनाओं को बेहतर ढंग से किए जाने का काम चल रहा है.

नीतीश कुमार ने कार्यक्रम में यह निर्धारित निर्देश दिया कि जो नई सड़क बनाई जाती हैं उनका नियमित रूप से रख रखाव भी होता रहे. ताकि आम जनों को बारहमासी संपर्कता का लाभ मिले. क्षतिग्रस्त पुल को बनाने के लिए मुख्यमंत्री ग्रामीण संपर्क ग्रामीण सड़क उन्नयन योजना 2013 से शुरू की गई है, ताकि निर्धारित समय में सड़कों का पुनर्निर्माण निर्माण हो सके और लोगों को बेहतर यातायात सुविधा मिले. 

इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, उप मुख्यमंत्री सम्राट चौधरी, उपमुख्यमंत्री विजय कुमार सिन्हा, ग्रामीण कार्य मंत्री विजेंद्र पासवान, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव दीपक कुमार, मुख्य सचिव आमिर सुबहानी, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव डॉक्टर एस. सिद्धार्थ, ग्रामीण कार्य विभाग के सचिव पंकज कुमार पाल, मुख्यमंत्री के सचिव अनुपम कुमार, ग्रामीण कार्य विभाग के अभियंता प्रमुख भागवत राम मौजूद रहे.

Bihar samrat chaudhry CM Nitish Kumar vijay kumar sinha