सन ऑफ मल्लाह ने दोहराया अपना रिकॉर्ड, इस चुनाव में भी नहीं मिली एक भी सीट

एक बार फिर से मुकेश सहनी के हाथ में कुछ नहीं लगा है. राजद कोटे से मिली तीन सीट पूर्वी चंपारण(मोतिहारी), गोपालगंज और झंझारपुर से मुकेश सहनी ने उम्मीदवार उतारे थे.

New Update
सन ऑफ मल्लाह को एक भी सीट नहीं

सन ऑफ मल्लाह को एक भी सीट नहीं

लोकसभा चुनाव 2024 में राजद नेता तेजस्वी यादव जहां-जहां प्रचार करने गए उनके साथ एक और चेहरा साए की तरह नजर आया. हेलीकॉप्टर हो या जनसभा, रैली हो या रोड शो हर जगह वीआईपी सुप्रीमो मुकेश सहनी तेजस्वी यादव के साथ नजर आए. सन ऑफ़ मलाह के नाम से मशहूर मुकेश सहनी को तेजस्वी यादव ने इस चुनाव में तीन सीट अपने खाते से दी थी, इन तीनों सीट से वीआईपी औंधे मुंह गिर गई है. एक बार फिर से मुकेश सहनी के हाथ में कुछ नहीं लगा है. बिहार में लोकसभा की 40 सीट में से मुकेश सहनी ने तीन पर अपने प्रत्याशियों को उतारा था. राजद कोटे से मिली तीन सीट पूर्वी चंपारण(मोतिहारी), गोपालगंज और झंझारपुर से मुकेश सहनी ने उम्मीदवार उतारे थे. मोतिहारी से राजेश कुशवाहा को उम्मीदवार बनाया गया था, झंझारपुर में सुमन कुमार महासेठ और गोपालगंज में प्रेमनाथ चंचल को विआईपी ने मैदान में उतारा था. लेकिन इन तीनों ही कैंडिडेट को चुनाव में भारी शिक्कस्त मिली है. वीआईपी का इस लोकसभा चुनाव में भी किसी सीट से खाता नहीं खुल पाया है.

Advertisment

मोतिहारी सीट पर वीआईपी उम्मीदवार राजेश कुशवाहा हारे

खुद को मल्लाह कहने वाले मुकेश सहनी ने इस चुनाव में एक भी निषाद जाति के उम्मीदवार को टिकट नहीं दिया था, जिस पर विपक्ष ने काफी सवाल भी खड़े किए थे. चुनाव परिणाम आने के बाद यह साफ़ हो गया कि राजद, कांग्रेस और वाम दलों के सहयोग के बाद भी वीआईपी बिहार में खुद को साबित नहीं कर पाई.

गोपालगंज सीट से वीआईपी उम्मीदवार प्रेमनाथ चंचल को सवा लाख मतों से हार का सामना करना पड़ा है. यहां से जदयू उम्मीदवार आलोक कुमार सुमन जीत गए है. झंझारपुर में जदयू प्रत्याशी रामप्रीत मंडल ने सुमन कुमार महासेठ को लगभग सवा लाख से अधिक मतों से हरा दिया. मोतिहारी सीट पर वीआईपी प्रत्याशी राजेश कुशवाहा हार गए हैं.

गौरतलब है कि बिहार में चुनाव प्रचार की शुरुआत होने के साथ ही मुकेश सहनी तेजस्वी यादव के साथ चुनाव अभियान में हिस्सा लेते हुए नजर आए थे. राजद का तो इस चुनाव में खाता खुल गया, लेकिन तेजस्वी यादव का जादू मुकेश सहनी की सीटों पर नहीं चला सका.

Son of Mallah Mukesh Sahani Bihar Loksabha Results Son of Mallah lost in loksabha election Mukesh Sahani and Tejashwi Yadav