पश्चिम बंगाल में रामनवमी के अवसर पर दो समुदायों के बीच हिंसा, 1 दर्जन से ज्यादा लोग घायल

West Bengal News: पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद में रामनवमी के मौके पर निकाली गई शोभायात्रा पर पत्थरबजी की घटना हुई. मेदीनीनगर में भी दो समुदाय के बीच में झड़प और आगजनी की घटना हुई.

New Update
रामनवमी पर बंगाल में पथराव

रामनवमी पर बंगाल में पथराव

17 अप्रैल को देशभर में रामनवमी का पर्व मनाया गया. देश के अलग-अलग हिस्सों में रामनवमी के मौके पर शोभायात्रा निकाली गई. शोभायात्रा की सुरक्षा के लिए पुलिस बालों की भी तैनाती राज्यों में की गई थी, साथ ही किसी भी तरह की अप्रिय घटना ना हो इसके लिए भी पुलिस को अलर्ट रखा गया था. लेकिन प्रशासन के हाई अलर्ट के बावजूद पश्चिम बंगाल में रामनवमी के मौके पर हिंसा हो गई. पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद में रामनवमी के मौके पर निकाली गई शोभायात्रा पर पत्थरबजी की घटना हुई. 

Advertisment

मुर्शिदाबाद जिले के बेलडांगा शहर में मस्जिद के पास से शोभायात्रा गुजर रही थी, जिसमें दो समुदायों के बीच में संघर्ष हो गया. स्थानीय लोगों के मुताबिक शोभायात्रा पर कुछ लोगों ने छत से पत्थर फेंकना शुरू कर दिया, जिसके बाद हिंसा भड़क उठी. इस बीच बम फटने की भी सूचना मिली है. वही बंगाल के मेदीनीनगर में भी दो समुदाय के बीच में झड़प होने की घटना सामने आई है. झड़प के साथ ही आगजनी की भी घटना में मेदीनीनगर में हुई. इन हिंसाओं में अब तक 18 लोगों के घायल होने की खबर आ रही है, जिसमें नाबालिग, महिला और पुलिसकर्मी भी शामिल है.

पथराव और हिंसा का वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर

शोभायात्रा के बाद बंगाल सरकार और भाजपा आमने-सामने आ गए हैं. टीएमसी पर भाजपा लगातार सांप्रदायिक हिंसा को सह देने का आरोप लगा रही है.

Advertisment

शोभायात्रा पर हुई पत्थरबाजी को लेकर पश्चिम बंगाल के गवर्नर सीवी आनंद बोस को भाजपा ने चिट्ठी लिखी है. भाजपा नेता शुभेंदु अधिकारी ने गवर्नर को पत्र में लिखा कि शोभायात्रा पर पथराव की जांच नेशनल इन्वेस्टीगेशन एजेंसी(एनआईए) को दी जाए. चिट्ठी में शुभेंदु अधिकारी ने लिखा कि मैं आपको (गवर्नर) पश्चिम बंगाल की खराब हो रही कानूनी व्यवस्था से अवगत कराना चाहता हूं. बंगाल में अपना त्यौहार मना रहे हिंदुओं पर हमला कर सांप्रदायिक तनाव पैदा करने के मामले लगातार सामने आ रहे हैं. राज्य में धार्मिक त्योहार मना रहे हिंदुओं पर पत्थर और बम फेंकना प्रमुख आम घटना होती जा रही है. 2023 में भी इस तरह की घटना देखने को मिली और इस साल भी मुर्शिदाबाद में बड़े पैमाने पर हिंसा हुई है. 

भाजपा के राज्य महासचिव जग्गनाथ चट्टोपाध्याय ने टीएमसी पर विधि व्यवस्था को कायम न रखने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि कानून व्यवस्था बनाए रखना राज्य पुलिस का काम था. हम चुनाव आयोग से पुलिस अधिकारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का आग्रह करते हैं.

इधर टीएमसी ने भी भाजपा पर आरोप लगाया है कि चुनाव से पहले भाजपा दंगे कराने की कोशिश कर रही है.

बंगाल में हुई पत्थरबाजी और हिंसा का वीडियो भी सोशल मीडिया पर साझा किया जा रहा रहा है. भाजपा आईटी सेल की तरफ से रामनवमी के कुछ वीडियो साझा किए गए हैं, जिसमें भाजपा की तरफ से लिखा गया है कि ममता बनर्जी पश्चिम बंगाल के लिए कलंक है. वह एक बार फिर से रामनवमी शोभायात्रा की सुरक्षा करने में विफल रही.

मुर्शिदाबाद के शक्तिपुर इलाके में पथराव के बाद पुलिस ने एहतियात के तौर पर इलाके में धारा 144 लागू की है.

West Bengal News Stone pelting in bengal ramnavmi clash in bengal