पटना: गांधी मैदान में आज से शुरू हो रहा है पुस्तक मेला

पटना के गांधी मैदान में दिसम्बर महीने में कई आयोजन होने वाले हैं. आज से सीआरडी पुस्तक मेले का आयोजन होने वाला है. यह पुस्तक मेला 12 दिसम्बर तक होने वाला है जिसके लिए गेट नंबर 10 से एंट्री होगी.

author-image
सौम्या सिन्हा
एडिट
New Update
सीआरदडी पुस्तक मेला

पटना पुस्तक मेला 2023

दिसंबर में पटना का गांधी मैदान गुलजार रहने वाला है. नवंबर से ही गांधी मैदान में कई तरह के कार्यक्रमों का आयोजन लगातार कराया जा रहा है. दिसंबर महीने में भी कई तरह के कार्यक्रमों का आयोजन गांधी मैदान में किया जाने वाला है. इसकी शुरुआत आज से होने वाली है.

Advertisment

दिसंबर की पहली तारीख से ही राजधानी पटना के गांधी मैदान में राष्ट्रीय पुस्तक मेला का आयोजन किया जाने वाला है. मेले के आयोजन को लेकर सीआरडी ने पूरी तैयारी कर ली है.

1 दिसंबर से 12 दिसंबर तक ऐतिहासिक गांधी मैदान में 27वां सीआरडी पुस्तक मेला लग रहा है. गांधी मैदान में लगने वाले सीआरडी पुस्तक मेले की एंट्री गेट नंबर 10 से होगी. यानी पुस्तक प्रेमी रामगुलाम चौक की तरफ से गांधी मैदान पुस्तक मेला में प्रवेश करेंगे.

10 दिसंबर को सिंगर अरिजीत सिंह का कॉन्सर्ट

Advertisment

दिसंबर महीने में सांस्कृतिक कार्यक्रम, मैराथन, मेला, कॉन्सर्ट इत्यादि का आयोजन होने जा रहा है. पूरे महीने लोगों की भीड़ गांधी मैदान में होने वाली है. लोग मनोरंजन, घूमने-फिरने, शॉपिंग करने के लिए गांधी मैदान का रुख करेंगे.

गांधी मैदान में राष्ट्रीय पुस्तक मेला 24 नवंबर से 10 दिसंबर तक, जादूगर शंकर सम्राट का शो भी 5 जनवरी तक, शिल्प मेला 14 दिसंबर तक, डिज्नीलैंड मेला 5 जनवरी तक, सीआरडी पुस्तक मेला 12 दिसंबर तक, सरस मेला 5 दिसंबर से 3 जनवरी तक, ऊनी मेला 5 जनवरी तक, 10 दिसंबर को सिंगर अरिजीत सिंह का कॉन्सर्ट, 17 दिसंबर को पटना मैराथन का आयोजन होने वाला है. 

पुस्तक मेला में कई पुस्तक प्रेमी, विद्वान, साहित्यकार शामिल होंगे. इस बार पुस्तक मेला का थीम 'स्त्री नेतृत्व' रखा गया है.

पुस्तक मेला में इस बार 100 के करीब प्रकाशक अपनी नई और खास किताबों को लेकर शामिल होंगे. प्रभात प्रकाशन, राजकमल प्रकाशन, वाणी प्रकाशन, राजपाल एंड सन, साहित्य अकादमी, सेतु प्रकाशन, दृष्टि पब्लिकेशन, ओशो, राष्ट्रीय उर्दू भाषा विकास परिषद, गौतम बुक सेंटर इत्यादि राष्ट्रिय पुस्तक मेला में शामिल होंगे. 

patna pustakmela gandhimaidan Bihar