BPSC को मिला नए अध्यक्ष, जानें 1992 के किस अधिकारी को मिली इस आयोग की कमान

नीतीश सरकार ने बुधवार को 1992 बैच के एक आईएएस अधिकारी को BPSC आयोग की जिम्मेदारी सौंपी है. आईएएस अधिकारी रवि मनु भाई परमार को आयोग का नया अध्यक्ष बनाया गया है.

New Update
BPSC को मिले नए अध्यक्ष

BPSC को मिले नए अध्यक्ष

1 महीने के लंबे इंतजार के बाद आखिरकार बिहार लोक सेवा आयोग(BPSC) को नया स्थाई अध्यक्ष मिल ही गया. नीतीश सरकार ने बुधवार को 1992 बैच के एक आईएएस अधिकारी को आयोग की जिम्मेदारी सौंपी है.

Advertisment

BPSC आयोग के नए अध्यक्ष के तौर पर आईएएस अधिकारी रवि मनु भाई परमार (IAS officer Ravi Manu Bhai Parmar) को जिम्मेदारी दी गई है. मनु भाई परमार 1992 बैच के आईएएस अधिकारी हैं, खान एवं भू-तत्व विभाग के अपर मुख्य सचिव के पद पर उनकी तैनाती थी. परमार रिटायरमेंट नवंबर 2024 में होने वाला था. कला संस्कृति, एससी-एसटी कल्याण समेत कई महत्वपूर्ण विभाग भी परमार सचिव प्रधान सचिव और अपर मुख्य सचिव के तौर पर देख चुके हैं. हाल में ही वह केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर बिहार वापस आए हैं.

सामान्य प्रशासन विभाग की ओर से अधिसूचना जारी कर बताया गया है कि रवि मनु भाई पदभार संभालने के अगले दिन से 6 साल तक आयोग के अध्यक्ष रहेंगे या फिर 62 साल की आयु तक कुर्सी पर तैनात रहेंगे.

रवि मनु भाई से पहले BPSC आयोग के अध्यक्ष के तौर पर अतुल प्रसाद जिम्मेदारी संभाल रहे थे, 12 फरवरी को उनके रिटायरमेंट के बाद यह कमान इम्तियाज अहमद करीमी को दी गई. करीमी सिर्फ 7 दिनों के लिए ही आयोग की जिम्मेदारी को संभाल पाए, इसके बाद वह रिटायर हो गए. 26 फरवरी को इम्तियाज अहमद करीमी के रिटायरमेंट के बाद दीप्ति कुमारी ने आयोग की बागडोर संभाली यानी एक महीने में तीन नए अध्यक्ष BPSC आयोग के रह चुके हैं. हालांकि इस दौरान कई बार खबरों में नए अध्यक्ष के नाम को लेकर खूब चर्चा हुई थी.

bpsc new chairman 1992 batch IAS officer IAS officer Ravi Manu Bhai Parmar