धीरज साहू से ED करेगी पूछताछ, हेमंत सोरेन के आवास से बरामद हुई थी लग्जरी कार

जमीन घोटाला मामले में ED की हिरासत में पूर्व सीएम हेमंत सोरेन के दिल्ली आवास से जब्त लक्ज़री कार पर आज पूछताछ होनी है. ED आज इस मामले में कांग्रेस सांसद धीरज साहू से रांची में पूछताछ करेगी.

New Update
BMW कार मामले में ED ने धीरज साहू

जमीन घोटाला मामला: धीरज साहू से ED करेगी पूछताछ

जमीन घोटाला मामले में फंसे झारखंड के पूर्व सीएम हेमंत सोरेन के दिल्ली आवास से ईडी ने बीएमडब्ल्यू कर जब्त की थी. ईडी की छानबीन में यह बात सामने आई की यह कार कांग्रेस सांसद धीरज साहू के नाम पर रजिस्टर्ड है. छानबीन के बाद ईडी ने 8 फरवरी को धीरज साहू को पूछताछ के लिए समन भेजा था. 10 फरवरी के लिए प्रवर्तन निदेशालय ने समन भेज कर रांची के जोनल ऑफिस में कांग्रेस सांसद को पूछताछ के लिए पेश होने को कहा था. ईडी के समन पर आज रांची के जोनल ऑफिस में 11:00 बजे धीरज साहू पूछताछ के लिए पहुंचेंगे.

Advertisment

इधर जमीन घोटाला मामले में हेमंत सोरेन के करीबी और आर्किटेक्ट विनोद सिंह से भी ईडी पूछताछ कर रही है. कल भी विनोद सिंह से पूछताछ हुई थी, जिसमें उन्होंने कई खुलासे किए थे. विनोद सिंह ने अपने और हेमंत सोरेन के बीच हुए चैट पर हामी भरी थी. साथ ही विनोद सिंह ने यह भी माना था कि उन्होंने हेमंत सोरेन को जेएसएससी परीक्षा के एडमिट कार्ड पूर्व सीएम को भेजे थे. कई घंटे हुई इस पूछताछ में जमीन घोटाला समेत कई मामले को लेकर विनोद सिंह से ईडी ने पूछताछ की थी. आज भी ईडी विनोद सिंह से पूछताछ करेगी. 

जमीन घोटाला मामले में विनोद सिंह, हेमंत सोरेन के अलावा हेमंत सोरेन के पूर्व मीडिया सलाहकार अभिषेक प्रसाद उर्फ पिंटू से भी ईडी पूछताछ कर रही है. ईडी ने पिंटू के मोबाइल का डाटा जांच के लिए दिया है. 

लैंड फॉर जॉब मामले में 31 जनवरी को ईडी ने हेमंत सोरेन को गिरफ्तार किया था. 1 फरवरी को कोर्ट में पेश करते हुए ईडी ने 10 दिनों की रिमांड मांगी थी, 2 फरवरी को कोर्ट ने फैसला सुनाते हुए हेमंत सोरेन को 5 दिनों की ईडी रिमांड पर भेजा था. इसके बाद 8 फरवरी को भी हेमंत सोरेन की पेशी हुई, जिसमें 5 दिनों की रिमांड बढ़ाई गई जो 12 फरवरी को खत्म होगी.

कांग्रेस सांसद धीरज साहू बीते साल दिसंबर में चर्चा में आ गए थे, ईडी ने उनके ठिकानों पर छापेमारी कर 350 करोड रुपए बरामद किए थे. इस कार्रवाई के बाद धीरज साहू ने एक इंटरव्यू में कहा था कि यह पैसे उनके नहीं बल्कि उनके परिवार के व्यापार के पैसे हैं. ईडी ने धीरज साहू के झारखंड, उड़ीसा के अलावा कई ठिकानों पर रेड मारी थी जिसमें धीरज साहू के धन कुबेर होने की बात सामने आई थी. 10 दिनों की छापेमारी में 40 नोट गिनने की मशीनों का इस्तेमाल किया गया था, इसमें कई मशीन नोट गिनते हुए खराबी हो गई थी. 

jharkhand hemantsoren jharkhandED Dheeraj Sahu luxury car