झारखंड: सीएम हेमंत सोरेन को ED का 10वां समन, कहा- आप नहीं आएंगे तो हम आएंगे

ईडी ने सीएम हेमंत सोरेन पर कार्रवाई करते हुए अब दसवीं बार समन भेजा है. सीएम सोरेन को भेजे गए इस समन पर अभी तक आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है. ख़बरों के मुताबिक ईडी एक बार फिरसे सीएम से पूछताछ करना चाहती है.  

author-image
सौम्या सिन्हा
एडिट
New Update
हेमंत सोरेन को 10वां समन

झारखंड: सीएम हेमंत सोरेन को ED का 10वां समन

जमीन घोटाला के मामले में ईडी(ED) झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को राहत नहीं दे रही है. ईडी ने हेमंत सोरेन पर कार्रवाई करते हुए अब दसवीं बार समन भेजा है. मुख्यमंत्री सोरेन को भेजे गए इस समन पर अभी तक आधिकारिक पुष्टि नहीं की गई है, लेकिन जानकारी के अनुसार ईडी ने फिर से मुख्यमंत्री सोरेन को पत्र लिखकर पूछताछ के लिए हाजिर होने को कहा है.  

ईडी ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर कहा है कि वह 29 जनवरी से 31 जनवरी तक के बीच में पूछताछ के लिए पेश हो. अगर वो पेश नहीं हो सकते तो जगह और समय बता दे ईडी पूछताछ के लिए आ जाएगी.

इसके पहले 22 जनवरी को ईडी ने नौवां सामान भेजकर मुख्यमंत्री को पूछताछ के लिए 27 जनवरी से 31 जनवरी तक के बीच का समय दिया था. नौवें समन के बाद 25 जनवरी को मुख्यमंत्री ने ईडी को पत्र लिखकर जवाब भेजा था, जिसमें मुख्यमंत्री ने लिखा था कि अपनी व्यवस्तता की वजह से वह समन का जवाब बाद में देंगे.

मालूम हो कि ईडी के आठवें समन के बाद मुख्यमंत्री सोरेन जमीन घोटाला मामले में पूछताछ के लिए मान गए थे. मुख्यमंत्री सोरेन ने अपने सरकारी आवास पर 20 जनवरी को जवाब दर्ज कराया था. 

ईडी ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को पहला समन 14 अगस्त को जारी किया था, जिसमें रांची के रीजनल ऑफिस में पूछताछ के लिए बुलाया था. दूसरा समन 24 अगस्त को भेजा गया था, इस बार भी मुख्यमंत्री पूछताछ के लिए हाजिर नहीं हुए थे. जिसके बाद तीसरा समन 9 सितंबर को लिए पेश होने के लिए भेजा गया था. चौथा समन 23 सितंबर को भेजा गया था, पांचवा समन 26 सितंबर को जारी किया गया था और जिसमें 4 अक्टूबर को ईडी ऑफिस में आने के लिए कहा गया था. 11 दिसंबर को भी ईडी ने हेमंत सोरेन को छठा समन भेजा था, जिसमें 12 दिसम्बर को पूछताछ के लिए बुलाया गया था.  

इसके बाद 29 दिसंबर को ईडी ने पत्र लिखकर सातवां समन जारी किया था. पत्र में ईडी ने आखरी मौका मुख्यमंत्री को दिया था. सातवें समन में समय बताने के लिए हेमंत सोरेन को कहा था. इस समन का जवाब देने के लिए 31 दिसंबर का समय दिया गया था और बयान दर्ज कराने के लिए 5 जनवरी तक का समय मुख्यमंत्री को दिया गया था. इस कड़ाई के बाद भी मुख्यमंत्री ने ईडी को जवाब नहीं दिया था. इसके बाद 13 जनवरी को आठवां सामान भेज कर पूछताछ के लिए  मुख्यमंत्री पर ईडी ईडी ने और सख्ती की थी. इस आठवें समन के बाद मुख्यमंत्री ने अपना बयान दर्ज कराया था. 

jharkhand ED cmhemantsoren EDs 10th summons