गाजा में कुपोषित गर्भवती महिलाओं की संख्या अधिक, हर दिन 160 बच्चे ले रहे हैं जन्म

गाज़ा में फिलहाल 60 हजार से ज्यादा गर्भवती महिलाएं कुपोषण की शिकार है. शहर में गर्भवती महिलाओं का संख्या की संख्या काफी ज्यादा है. हर दिन 160 से ज्यादा गर्भवती महिलाएं बच्चों को जन्म दे रही है.

New Update
गाजा में गर्भवती महिलाएं

गाजा में कुपोषित गर्भवती महिलाओं की संख्या अधिक

इजराइल और हमास के बीच में चल रहे जंग के बीच गाज़ा पट्टी से लगातार हैरान कर देने वाली खबरें सामने आती रही है. गाज़ा पट्टी में बच्चों से लेकर बूढों तक की जिंदगी जंग की वजह से तबाह हो गई है, वहीं जो बच्चे अभी इस दुनिया में आए भी नहीं हैं उनकी भी स्थिति नाजुक है. साथ ही जन्म देने वाले मां की भी स्थिति काफी खराब है.

Advertisment

गाज़ा स्वास्थ्य मंत्रालय का कहना है कि इजराइली हमले से गाज़ा की हालत काफी बुरे हैं. गाज़ा में फिलहाल 60 हजार से ज्यादा गर्भवती महिलाएं कुपोषण की शिकार है. शहर में गर्भवती महिलाओं का संख्या की संख्या काफी ज्यादा है. हर दिन 160 से ज्यादा गर्भवती महिलाएं बच्चों को जन्म दे रही है. बच्चों का जन्म ध्वस्त हो चुके अस्पतालों के अंदर ही कराया जा रहा है. खराब हालातो में ही महिलाओं की डिलीवरी हो रही है.

गाज़ा की आबादी में 49% महिलाएं शामिल

8 मार्च को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर गाज़ा स्वास्थ्य मंत्रालय ने जानकारी देते हुए बताया कि गाज़ा पट्टी में लगभग 60 हजार गर्भवती महिलाएं कुपोषण की शिकार है. महिलाओं के पास पर्याप्त स्वास्थ्य देखभाल के लिए भी सामान नहीं है. गाज़ा की आबादी में 49% महिलाएं शामिल हैं, जिनमें बच्चा पैदा करने की उम्र का एक बड़ा हिस्सा भी है. बम, बारूद और लगातार गोलीबारी हमलों की वजह से महिलाएं असुरक्षित होकर अपना घर छोड़ रही है और खराब परिस्थितियों का सामना कर रही है. इन परिस्थितियों के बीच भी लगभग 5000 महिलाएं हर महीने बच्चों को जन्म दे रही है. 

19 फरवरी को संयुक्त राष्ट्र बालकोष यूनिसेफ ने भी बच्चों, गर्भवती महिलाओं और स्तनपान करने वाली मां के बीच कुपोषण को लेकर चिंता जताई थी. यूएन ने अपनी रिपोर्ट में कहा था कि गाज़ा में इजरायली हमलों के बाद बच्चों और महिलाओं की हालत काफी दयनीय है. इजराइल के हमलों की वजह से गाज़ा में खाना, पानी, दवा और ईंधन की भारी कमी है. इजरायल ने गाज़ा में पूरी घेराबंदी कर रखी है, जिसकी वजह से जरूरत के सामानों को भी पहुंचाने में कई मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है. इसके अलावा शहर में महामारी और डॉक्टर सहायता की कमी के कारण भी स्वास्थ्य संकट गहराया हुआ है.

IsraelPalestineWar childrens in gaza pregnant women in Gaza gaza news