शीर्ष अदालत से हेमंत सोरेन को नहीं मिली राहत, ED को जवाब दाखिल करने का मिला समय

सुप्रीम कोर्ट में आज हेमंत सोरेन के मामले पर सुनवाई हुई, लेकिन फैसला हेमंत सोरेन के पक्ष में नहीं आया. हेमंत सोरेन ने लोकसभा चुनाव के मद्देनजर कोर्ट में याचिका दायर कर जमानत की मांग रखी थी.

New Update
हेमंत सोरेन को नहीं मिली राहत

हेमंत सोरेन को नहीं मिली राहत

झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को आज सुप्रीम कोर्ट से राहत नहीं मिली है. जमीन घोटाला मामले में ईडी ने हेमंत सोरेन को गिरफ्तार किया था, जिसके खिलाफ उन्होंने सुप्रीम कोर्ट का रुख किया था. सुप्रीम कोर्ट में आज हेमंत सोरेन के मामले पर सुनवाई हुई, लेकिन फैसला हेमंत सोरेन के पक्ष में नहीं आया. हाल में ही हेमंत सोरेन ने लोकसभा चुनाव के मद्देनजर कोर्ट में याचिका दायर कर जमानत की मांग रखी थी.

Advertisment

ष्मकालीन अवकाश करेगा सुनवाई

इस मामले पर आज सुनवाई के बाद कोर्ट ने अगली तारीख तय की है. सुप्रीम कोर्ट हेमंत सोरेन के जमानत याचिका पर अब मंगलवार(21 मई) को सुनवाई करेगा. ग्रीष्मकालीन अवकाश पीठ हेमंत सोरेन के मामले में सुनवाई करेगा, जिसमें संभवत जस्टिस दीपंकर दत्ता और जस्टिस सतीश चंद्र शर्मा सुनवाई करेंगे. जस्टिस संजीव खन्ना और जस्टिस दीपंकर दत्ता की पीठ ने ईडी के वकील एएसजी एसवी राजू ने कहा कि यह अर्जी चुनाव प्रचार करने के लिए अंतरिम जमानत के लिए है, इस पर आपका क्या रुख है? जिस पर एसवी राजू ने आपत्ति जताई.

 हेमंत सोरेन की तरफ से वकील कपिल सिब्बल ने कोर्ट में कहा कि झारखंड में 20 और 25 मई को मतदान है. ईडी की तरफ से एसवी राजू ने हेमंत सोरेन के जमानत का विरोध किया. उन्होंने कहा कि चुनाव घोषित होने से पहले गिरफ्तारी हुई थी, जिस पर वकील सिब्बल ने कहा कि जमीन घोटाले का आरोप कुछ लोगों के बयान के आधार पर लगाया गया है.

Advertisment

ईडी सोमवार को करेगा जवाब दाखिल

हेमंत सोरेन ने दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल की तरह ही चुनाव प्रचार में भाग लेने के लिए अंतरिम जमानत की मांग रखी है. पिछली सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट ने ईडी को नोटिस जारी कर जवाब मांगा था. ईडी को आज कोर्ट ने फिर सोमवार तक मामले में जवाब दाखिल करने का समय दिया है.

इस मामले पर पिछली सुनवाई 13 मई को हुई थी, जिसमें जस्टिस संजीव खन्ना और दीपंकर दत्ता की पीठ ने सुनवाई की तारीख 20 मई तय किया था. लेकिन कपिल सिब्बल के आग्रह पर 17 मई की तारीख को मुकर्रर किया गया. बता दें कि पूर्व सीएम हेमंत सोरेन अपनी पार्टी झारखंड मुक्ति मोर्चा और I.N.D.I.A अलायंस के लिए लोकसभा चुनाव में प्रचार करना चाहते हैं. झारखंड में अभी चुनाव तीन चरणों में बाकी है.

Jharkhand ED news Supreme Court hearing on Hemant Soren Hemant Soren in Supreme Court