ओम बिरला ध्वनिमत से दूसरी बार बने लोकसभा के स्पीकर, राहुल गांधी ने बैठाया कुर्सी पर

एनडीए के उम्मीदवार ओम बिरला ने कांग्रेस के के. सुरेश को स्पीकर पद के चुनाव में हरा दिया. 18वीं लोकसभा स्पीकर पद के लिए दूसरी बार ओम बिरला को चुना गया है.

New Update
लोकसभा अध्यक्ष बने ओम बिड़ला

लोकसभा अध्यक्ष बने ओम बिरला

बुधवार को 18वीं लोकसभा स्पीकर पद के लिए चुनाव कराए गए, जिसमें ध्वनि मत से दूसरी बार ओम बिरला को चुना गया है. एनडीए के उम्मीदवार ओम बिरला ने कांग्रेस के के. सुरेश को स्पीकर पद के चुनाव में हरा दिया.

Advertisment

एनडीए ने तीसरी बार सांसद बने ओम बिरला को अपना प्रत्याशी बनाया था. ओम बिरला राजस्थान के कोटा बूंदी से तीसरी बार सांसद बने हैं, जबकि विपक्षी इंडिया गठबंधन ने केरल से आठ बार के सांसद रहे के. सुरेश को मैदान में उतारा था. आज ओम बिरला के दूसरी बार स्पीकर चुने जाने पर इतिहास भी बन गया है. दरअसल अब तक कोई भी सांसद लगातार दो कार्यकाल में स्पीकर पद पर नहीं बैठा है.

दूसरी बार बने लोकसभा के स्पीकर

स्पीकर पद के चुनाव खत्म होने के बाद पीएम मोदी ने ओम बिरला को बधाई दी. पीएम ने कहा कि एक सांसद के रूप में आपकी कार्यशाली सभी सांसदों के लिए सीखने योग्य है. आपने स्वस्थ शिशु, स्वास्थ्य अभियान शुरू किया, जो प्रेरक है. गांव-गांव में स्वास्थ्य सेवाएं पहुंचाई हैं.17वीं लोकसभा संसदीय इतिहास का स्वर्णिम कालखंड रहा है. आपकी अध्यक्षता में जो निर्णय लिए गए सदन के जरिए, जो सुधार किए गए, वह आपकी भी और सदन की भी विरासत है. पीएम ने आगे कहा कि हम सबको विश्वास है कि आने वाले 5 साल आप हम सबका मार्गदर्शन करेंगे.

ओम बिरला के स्पीकर चुने जाने के बाद अखिलेश यादव ने उन्हें बधाई देते हुए कहा कि निष्पक्षता इस महान पद की महान जिम्मेदारी है. स्पीकर के रूप में आप सबको बराबर मौका देंगे. आपका अंकुश विपक्ष पर तो रहता ही है. आपका अंकुश सत्ता पक्ष पर भी रहे. आपके इशारे पर सदन चले, इसका उल्टा ना हो. किसी भी प्रतिनिधि की आवाज नहीं दवाई जानी चाहिए. आपकी कुर्सी लोकतंत्र के मुख्य न्यायाधीश की तरह है.

बीते दिन विपक्षी नेता चुने गए राहुल गांधी ने भी स्पीकर निर्वाचित होने पर ओम बिरला को बधाई दी. उन्होंने कहा कि विपक्ष सरकार के साथ सहयोग करना चाहता है. सरकार के पास पॉलीटिकल पावर ज्यादा है, लेकिन विपक्ष भी भारत का प्रतिनिधित्व करता है. हमें भरोसा है कि आप हमारी आवाज उठाने देंगे. विपक्ष की आवाज दबाना अलोकतांत्रिक है.

Loksabha Speaker Om Birla Lok Sabha Speaker seat to NDA second time speaker Om Birla