15 दिन में UPSC की परीक्षा और घरवाले मांग रहे साड़ी में फोटो.....

यूपीएससी की परीक्षा बस 15 दिनों में होने ही वाली है, मेरी तैयारी भी पूरी है लेकिन फिर भी अंदर से डर लग रहा है. ऐसे में मां का कॉल आता है और वह कहती है कि एक फोटो अपनी साड़ी में भेज देना.

New Update
घरवाले मांग रहे साड़ी में फोटो

घरवाले मांग रहे साड़ी में फोटो

मैं पिछले 4 सालों से सिविल सर्विसेज परीक्षा की तैयारी में लगी हुई हूं. शुरुआत में मैंने दिल्ली में रहकर पढ़ाई की अपने कोचिंग और क्लास खत्म कर मैं वापस घर से पढ़ाई करने लगी. लेकिन घर में पढ़ाई करने में मुश्किल होती थी इसलिए मैं पटना चली आई. पटना में हॉस्टल में रहकर पढ़ाई करती हूं, यहां सारे स्टडी मटेरियल आसानी से मिल जाते हैं. यहां मैं एक सुबह से लाइब्रेरी जाती हूं और हॉस्टल आकर फिर से पढ़ाई में लग जाती हूं. मन तो मेरा भी बहुत करता है कि घर जाऊं पापा की बिजनेस में मदद करू, लेकिन फिर सोचती हूं कि कुछ बनकर लौटेगी तो उनका ही नाम रोशन करूंगी.

Advertisment

4 साल से कर रही हूँ तैयारी

4 सालों की तैयारी में मैंने दो बार यूपीएससी का प्रीलिम्स क्लियर किया, लेकिन मेंस नहीं निकल पाई. हालांकि इससे मेरे घर वालों को कोई शिकायत नहीं है, वह मेरी मेहनत पर पूरा भरोसा करते हैं. लेकिन मैं अपने घर में अब इकलौती लड़की हूं जिसकी शादी होनी है, ऐसे में घर वाले रिश्ता भी ढूंढ रहे हैं. इधर यूपीएससी की परीक्षा बस 15 दिनों में होने ही वाली है, मेरी तैयारी भी पूरी है लेकिन फिर भी अंदर से डर लग रहा है. ऐसे में मां का कॉल आता है और वह कहती है कि एक फोटो अपनी साड़ी में भेज देना. मैं हक्की-बक्की रह जाती हूं कि भला मेरी पढ़ाई और परीक्षा के बीच में मां ने यह कैसी डिमांड रख दी.... मैंने मां से पूछा आपको फोटो क्यों चाहिए? तो उन्होंने कहा कि पापा ने मांगा है, भेज दो वरना वह गुस्सा करेंगे. फिर मैंने कहा कि मां पर मैं अभी पढ़ाई कर रही हूं. इस पर मां कहती हैं तुम पढ़ो, हमें हमारा काम करने दो. मैं मां की ऐसी बात से नाराज हो गई और मैंने फोन काट दिया.

ऑफिसर दामाद की चाहत

मैंने यह बात अपने साथ की लड़कियों को भी बताई, उन्होंने मुझे इस बारे में ज्यादा ना सोचने की सलाह दी और कहा कि आप परीक्षा पर ध्यान दें. मैंने सब की बातें तो सुन ली पर मेरे दिमाग में यह बात लगातार खटक रही है कि आखिर घर वाले मेरी यूपीएससी परीक्षा के बीच में ऐसी डिमांड कैसे रख सकते हैं? मेरे घर वालों का भी सपना है कि उनके घर एक ऑफिसर हो, इसलिए वह मेरी तरफ बड़े आस से देखते हैं. लेकिन इसके साथ ही वह एक ऑफिसर दामाद के लिए भी नजर दौड़ा रहे हैं. मतलब मैं ना सही तो उनका होने वाला दामाद ही सही.

खैर जिस दिन मां ने मुझसे फोटो की बात की उस दिन मैंने ठान लिया कि अब मैं घर में किसी से भी बात नहीं करूंगी. लेकिन मां तो मां होती है उनसे कितना रूठ सकती हूं. दो दिन बाद मां ने फिर फोन किया और कहा कि तुम अपनी पढ़ाई पर ध्यान दो, लेकिन शादी एक ना एक दिन तो होनी है. हम बस अपनी तैयारी में लगे हैं ताकि तुम्हारे लिए एक अच्छा लड़का ढूंढ सके. मगर मैं सोचती हूं कि क्या सच में वह मेरे लिए अच्छा लड़का ढूंढना चाहते हैं या घर के लिए एक ऑफिसर दामाद? क्या मेरी पढ़ाई और मेहनत से उनका भरोसा उठ चुका है? क्या मैं एक ऑफिसर बन पाऊंगी? और सबसे बड़ा सवाल क्या किसी लड़के के घर में ऑफिसर बहू लाने का भी सपना देखा जाता होगा?

UPSC exam girl education education and marriage of girl