चुनाव से पहले विधानसभा उपाध्यक्ष महेश्वर हजारी ने दिया इस्तीफा, नीतीश कैबिनेट में शामिल होने की अटकलें

विधानसभा सचिवालय के उपाध्यक्ष महेश्वर हजारी ने अपने पद का त्याग कर दिया है. बुधवार को विधानसभा सचिवालय की ओर से पत्र जारी कर महेश्वर हजारी के इस्तीफा की पुष्टि हुई है.

New Update
महेश्वर हजारी ने दिया इस्तीफा

विधानसभा उपाध्यक्ष महेश्वर हजारी ने दिया इस्तीफा

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की नई सरकार गठन के बाद अभी तक सरकार ने मंत्रिमंडल का विस्तार नहीं किया है. कुछ ही दिनों में नीतीश सरकार अपने मंत्रिमंडल का विस्तार करने वाली है, उसके पहले बिहार विधानसभा के उपाध्यक्ष महेश्वर हजारी ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है. बुधवार को विधानसभा सचिवालय की ओर से पत्र जारी कर महेश्वर हजारी के इस्तीफा की जानकारी दी गई है.  

Advertisment

इस्तीफे का पत्र

विधानसभा सचिवालय के उपाध्यक्ष महेश्वर हजारी ने खुद अपने पद का त्याग कर दिया है. जदयू नेता महेश्वर हजारी महागठबंधन सरकार में भी सदन के उपाध्यक्ष थे.

महेश्वर हजारी संभालेंगे मंत्री पद

Advertisment

ख़बरों के मुताबिक जल्द ही हजारी नीतीश सरकार में मंत्री का पद संभालेंगे, जिसकी वजह से उन्होंने अपने उपाध्यक्ष पद से इस्तीफा दिया है. इसके अलावा महेश्वर हजारी पहले भी नीतीश कुमार के मंत्रिमंडल में मंत्री का पद संभाल चुके हैं. उन्होंने पहले भवन निर्माण मंत्री के तौर पर कार्यवाहन किया है. 

महेश्वर हजारी ने अपने इस्तीफा पर कहा कि मैंने अपनी मर्जी से आला कमान को जानकारी में रखकर यह कदम उठाया है. पार्टी का एक समर्पित सिपाही होने के नाते पार्टी मेरे लिए जो भी निर्णय लेगी, मैं उस काम को पूरी गंभीरता और निष्ठा से निभाऊंगा.

बिहार में फिलहाल सिर्फ 9 मंत्री है, भाजपा की ओर से मंत्रियों के नाम पर कोई बात नहीं बन पा रही है, जिसकी वजह से मंत्रिमंडल का विस्तार अटक गया है. इधर यह भी कहा जा रहा है कि इसी हफ्ते मंत्रिमंडल का विस्तार हो सकता है.

महेश्वर हजारी पासवान जाति से आते हैं, बिहार में हुए जातीय जनगणना की रिपोर्ट के मुताबिक बिहार में अनुसूचित जाति के लोगों में सबसे बड़ी आबादी पासवान की है. चुनाव के पहले सीएम नीतीश कुमार महेश्वर हजारी को मंत्री बनाकर वोट भुनाने की कोशिश करेंगे.

Bihar bihar vidhansabha maheshwar hajari