CM चंपई सोरेन पलामू में करेंगे पाइपलाइन योजना का उद्घाटन, 96 गांवों को होगा फायदा

शनिवार को झारखंड के मुख्यमंत्री चंपई सोरेन पलामू जिले में पाइपलाइन सिंचाई योजना का शिलान्यास करेंगे. पलामू सिंचाई योजना की लागत कुल 456.6261 करोड़ रुपए है.

author-image
सौम्या सिन्हा
एडिट
New Update
CM चंपई सोरेन पलामू

CM चंपई सोरेन पलामू में करेंगे पाइपलाइन योजना का उद्घाटन

शनिवार को झारखंड के मुख्यमंत्री चंपई सोरेन पलामू जिले में कार्यक्रम में भाग लेंगे. मेदीनगर के शिवाजी मैदान में आयोजित कार्यक्रम में सीएम पलामू पाइपलाइन सिंचाई योजना का शिलान्यास करेंगे. सीएम चंपई सोरेन कार्यक्रम के लिए शनिवार की सुबह 11:30 बजे चियांकी हवाई अड्डे से शिवाजी मैदान पहुंचे. 

पलामू में उनके दौरे को लेकर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं. पलामू डीसी शशिरंजन ने सीएम के मेदीनगर आगमन के पहले सुरक्षा तैयारियों की समीक्षा की और अधिकारियों को जरूरी दिशा निर्देश दिए. डीसी शशिरंजन के मुताबिक आज के कार्यक्रम में सीएम 456.6261 करोड रुपए की पलामू सिंचाई योजना का शिलान्यास करेंगे.

सोन, कोयल, औरंगा पाइपलाइन परियोजना की नींव

सीएम यहां सोन, कोयल, औरंगा पाइपलाइन परियोजना की नींव रखेंगे, जिससे जिलों के 11 प्रखंडों को सीधे फायदा मिलेगा. इसके अलावा सीएम शिवाजी मैदान में लाभुकों के बीच परिसंपत्तियों का वितरण भी करेंगे. सीएम पलामू में पाइपलाइन सिंचाई योजना पैकेज वन और पैकेज टू दोनों की शुरुआत करेंगे. 

पैकेज वन के तहत उत्तरी कोयल से रानीताल डैम, टेमराइन डैम, बुटनडूबा डैम और छोटे-मोटे जलाशयों में पानी भेजा जाएगा. औरंगा नदी से मलय डैम, पोस्तिया नाला डैम, पनघटवा डैम, कचहडवाटांड डैम, कुंडलवा डैम और वाहेरवधवा डैम में पानी भेजा जाएगा.

पैकेज टू के तहत सोन नदी से बतरे डैम, धनकई डैम, ताली डैम, सुखनदिया डैम, करमाकलन डैम और पाइपलाइन के बीच आने वाले छोटे जलाशयों में पानी भेजा जाएगा. इस योजना से पलामू के चैनपुर, मेदीनगर, सतबरवा, विश्रामपुर, छतरपुर, हुसैनाबाद, हैदरनगर, मोहम्मद गंज प्रखंड के गांवों को लाभ मिलेगा. 

पाइपलाइन सिंचाई योजना से जिले के आठ प्रखंड और 17 जलाशयों को लाभ मिलेगा. इस योजना से जिले के 96 गांव के ग्रामीणों को लाभ मिलने वाला है. दरअसल पलामू जिला सुखा प्रभावित जिला रहा है. बारिश कम होने से किसानों को बेहद परेशानी होती है. सीएम के इस योजना शुरू करने से पलामूवासियों को अब सुखे की मार नहीं झेलनी होगी.

jharkhand palamu champaisoren