1 करोड़ मुस्लिम आबादी वाले देश में 96 फीसदी मुस्लिम, सरकार ने फिर क्यों लगाया हिजाब पर प्रतिबंध?

ताजिकिस्तान में करीब 1 करोड़ की आबादी है, जिसमें से 96% से ज्यादा लोग इस्लाम धर्म का पालन करते हैं. देश की संसद ने यहां हिजाब पर बैन लगा दिया है, साथ ही इसे विदेशी परिधान कहा है.

New Update
हिजाब पर प्रतिबंध

हिजाब पर प्रतिबंध

मुस्लिम धर्म में महिलाओं को हिजाब पहनने का रिवाज देखा जाता है. मुस्लिम बहुल देशों में खासतौर पर हिजाब पहनने के लिए कहा जाता है, लेकिन 96 फ़ीसदी मुस्लिम आबादी वाले देश(Muslim Populated Country) की संसद ने हिसाब को लेकर बड़ा फैसला लिया है. मुस्लिम आबादी वाले देश ताजिकिस्तान में आधिकारिक तौर पर संसद ने हिजाब पर बैन लगा दिया है. नए संशोधन के मुताबिक इस कानून का उल्लंघन करने पर भारी जुर्माना लगाया जा सकता है.

Advertisment

ताजिकिस्तान के उच्च सदन मजलिसी मिल्ली में हिजाब बैन विधेयक को औपचारिक मंजूरी मिली है. विधेयक के अनुसार विदेशी परिधानों(हिजाब) को दो सबसे महत्वपूर्ण इस्लामी छुट्टियां ईद उल फितर और ईद उल अजहा के लिए बच्चों के उत्सव में शामिल होने पर रोक लगा दी गई है. ईद के त्योहार पर बच्चों को दी जाने वाली ईदी पर भी देश में बैन लगाया गया है.

2015 में हुआ था हिजाब के खिलाफ आंदोलन

प्रस्ताव को प्रशासनिक उल्लंघन संहिता में संशोधन के बाद मंजूरी दी गई है. संसद में पास हुए विधेयक को ना मानने वाले लोगों पर 60 हजार से 5 लाख तक के जुर्माने का प्रावधान रखा गया है. वहीं अगर कोई धार्मिक या सरकारी अधिकारी कानून का पालन नहीं करेगा, तो उसपर 3 से 5 लाख रुपए तक का जुर्माना लगाया जा सकता है.

Advertisment

ताजिकिस्तान में करीब 1 करोड़ की आबादी है, जिसमें से 96% से ज्यादा लोग इस्लाम धर्म का पालन करते हैं. सरकार के फैसले के बाद पूरे देश में इसकी आलोचना हो रही है. मानव अधिकार संगठनों समेत मुसलमानों से जुड़े कई ग्रुप ने नए कानून का विरोध किया है. मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो ताजिकिस्तान में सरकार ने अनाधिकारिक रूप से कई सालों से हिजाब पर बैन लगाया हुआ है. ताजिकिस्तान की सरकार इसे देश की संस्कृति विरासत के लिए खतरा और विदेशी प्रभाव की तरह देखती है. 2015 में भी राष्ट्रपति इमोमाली रहमान ने हिजाब के खिलाफ देश में आंदोलन भी चलाया था.

ईदी पर पाबंदी लगाने को लेकर सरकार ने कहा कि यह फिजूल खर्ची है.

Tajikistan news Muslim populated country Tajikistan bans Eedi Tajikistan bans Hijab