पुणे पोर्श कार केस में पिता और दादा के बाद मां भी हुई गिरफ्तार, जानिए क्या है आरोप?

पुणे पोर्श कार केस में अब नाबालिग की मां को गिरफ्तार किया गया है. पुलिस के अनुसार नाबालिग की मां शिवानी अग्रवाल ने अपने बेटे का ब्लड सैंपल बदलने के लिए अपना ब्लड दिया था. साथ ही डॉक्टरों को पैसे दिए थे.

New Update
पोर्श कार एक्सीडेंट

पुणे पोर्श कार केस

कहते हैं एक झूठ छुपाने के लिए सौ झूठ बोलने पड़ते हैं. ठीक ऐसे ही एक अपराध छुपाने के लिए सौ अपराध करने पड़ते हैं. इस कहावत का सटीक उदाहरण पुणे पोर्श कार केस बन गया हैं. जहां नाबालिग युवक के अपराध को बचाने के चक्कर में पूरा परिवार अपराध में शामिल हो गया.

Advertisment

वहीं अब एक-एक कर परिवार का प्रत्येक सदस्य पुलिस की गिरफ्त में आ गया है. पुणे पोर्श कार केस में अब नाबालिग की मां को गिरफ्तार किया गया है. पुणे पुलिस कमिश्नर अमितेश कुमार ने शनिवार 1 जून को इसकी जानकारी दी है.

पुलिस के अनुसार नाबालिग की मां शिवानी अग्रवाल ने अपने बेटे का ब्लड सैंपल बदलने के लिए अपना ब्लड दिया था. साथ ही डॉक्टरों को पैसे दिए थे.

घटना के बाद से आरोपी शिवानी अग्रवाल अपने घर से गायब थीं. शुक्रवार 31 मई को देर रात पुलिस ने उन्हें घर से गिरफ्तार किया है. आज उन्हें कोर्ट में पेश किया जायेगा.

Advertisment

पुलिस ने बताया था कि आरोपी नाबालिग का ब्लड सैंपल किसी महिला से बदला गया था. ताकि यह दिखाया जा सके कि वह नशे में नहीं है. वह महिला कोई और नहीं उसकी मां थी.

नाबालिग से होगी पूछताछ

घटना के मुख्य आरोपी नाबालिग युवक से आज क्राइम ब्रांच पूछताछ करेगी.जुबेनाइल बोर्ड से इसकी मंजूरी मिल चुकी है. नाबालिग से सहायक पुलिस आयुक्त और दो महिला अधिकारी पूछताछ करेंगे. घटना के बाद, अबतक नाबालिग से कोई पूछताछ नहीं हुई है और ना ही उसके बयान दर्ज हुए हैं.

पुणे पुलिस ने पत्र लिखकर जुबेनाइल बोर्ड से इजाजत मांगी थी. बोर्ड ने शुक्रवार को इसकी इजाजत दे दी. पूछताछ के समय आरोपी के माता-पिता और जुबेनाइल बोर्ड का एक सदस्य मौजूद रहेगा.

जुबेनाइल बोर्ड ने नाबालिग को 5 जून तक के लिए बाल सुधार गृह भेजा है.

मामले अबतक 11 लोग गिरफ्तार

पुणे पोर्श कार मामले में अबतक 11 लोग गिरफ्तार हो चुके हैं. 18 मई कि रात हुई घटना के बाद 19 मई को नाबालिग को मामूली सजा के साथ रिहा कर दिया गया था.

हालांकि बाद में 21 मई को सबसे पहले युवक के पिता, पब के मालिक और मैनेजर को गिरफ्तार किया गया. उसके बाद आरोपी के दादा को 25 मई को ड्राइवर को फंसाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया. वहीं ससून हॉस्पिटल के दो डॉक्टर और एक स्टाफ को ब्लड सैंपल बदलने के आरोप में गिरफ्तार किया गया.

Juvenile Board Porsche car accident Pune Porsche Car Case Pune Police