Jharkhand News: चंपई सोरेन फ्लोर टेस्ट में पास, JMM के पक्ष में 47 और बीजेपी के पक्ष में 29 विधायक

झारखंड में चंपई सरकार ने आज अपना बहुमत साबित कर दिया है. झारखंड विधानसभा में चंपई सोरेन की सरकार के पक्ष में सभा में 47 वोट पड़े हैं, वहीं विश्वास मत के विपक्ष में 29 वोट पड़े हैं. 

New Update
चंपई सोरेन फ्लोर टेस्ट में पास

Jharkhand News: चंपई सोरेन फ्लोर टेस्ट में पास

जमीन घोटाला मामले में झारखंड के पूर्व सीएम हेमंत सोरेन की गिरफ्तारी के बाद बनी झारखंड की चंपई सरकार ने आज बहुमत साबित कर दिया है. झारखंड विधानसभा में चंपई सोरेन की सरकार ने बहुमत जुटाया है और फ्लोर टेस्ट में पास रही है. चंपई सोरेन की सरकार के पक्ष में सभा में 47 वोट पड़े हैं, वहीं विश्वास मत के विपक्ष में 29 वोट पड़े हैं. 

Advertisment

विधायकों की खरीद फरोख्त के डर से झामुमो ने अपने विधायकों को शुक्रवार से ही हैदराबाद में शिफ्ट कर दिया था और फ्लोर टेस्ट के पहले रविवार की रात सभी विधायकों की राज्य वापसी हुई थी.

झामुमो के 29 विधायक

जमीन घोटाला मामले में झारखंड के पूर्व सीएम हेमंत सोरेन की गिरफ्तार हुई थी, जिसके बाद उन्होंने इस्तीफा दिया था. हेमंत सोरेन के इस्तीफे के बाद उनके करीबी रहे चंपई सोरेन को झारखंड का नया सीएम बनाया गया था. राज्यपाल ने चंपई सोरेन को 10 दिनों के भीतर सदन में बहुमत साबित करने के लिए कहा था. 5 फरवरी को बहुमत साबित करने के लिए विधानसभा का विशेष सत्र बुलाया गया, जिसमें चंपई सोरेन ने पूर्ण बहुमत के साथ गठबंधन की सरकार बनाई है. 

Advertisment

चंपई सोरेन ने विधानसभा में पहले ही बता दिया था कि उनकी सरकार के पास पर्याप्त मात्रा में विधायक है जिससे वह बहुमत साबित कर पाएंगे. झारखंड में झामुमो के 29, कांग्रेस के 17, भाकपा-माले और राजद के एक-एक विधायक है.

हेमंत सोरेन ED की हिरासत में

हेमंत सोरेन की गिरफ्तारी के बाद राजद के विधायक सत्यानंद भोक्ता, कांग्रेस के आलमगीर आलम ने पहले ही मंत्री पद के शपथ ली थी. और झामुमो के चंपई सोरेन ने मुख्यमंत्री की शपथ ली थी.

फिलहाल हेमंत सोरेन ईडी की हिरासत में ही है. आज फ्लोर टेस्ट में शामिल होने के लिए कोर्ट से इजाजत मिलने के बाद हेमंत सोरेन विधानसभा पहुंचे थे. विधानसभा के विशेष सत्र में शामिल हुए हेमंत सोरेन ने कहा कि मुझे जेल में रखकर यह अपने मंसूबों में कामयाब नहीं हो पाएंगे. ईडी, सीबीआई, इनकम टैक्स जो देश की संवेदनशील व्यवस्थाएं हैं, देश का 12 लाख करोड़ लेकर जाने वाले लोगों का इन्होंने बाल भी बांका नहीं किया. मैं आंसू नहीं बहाउंगा, आंसू वक्त के लिए रखूंगा. साबित करें कि वो जमीन मेरे नाम है. अगर मुझ पर घोटाला साबित हुआ तो राजनीति छोड़ दूंगा. राजनीति से ही संन्यास नहीं, झारखंड छोड़ दूंगा. 

पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि 31 जनवरी की काली रात, काला अध्याय देश के लोकतंत्र में नए तरीके से जुड़ेगा. मेरे संज्ञान में नहीं है कि इसके पहले किसी मुख्यमंत्री की ऐसी गिरफ्तारी हुई होग. मेरी गिरफ्तारी में राजभवन भी शामिल है. मेरे खिलाफ बड़े ही सुनियोजित तरीके से लंबे समय से इसकी पटकथा लिखी जा रही थी. 

jharkhand hemantsoren JMM champai soren