Jharkhand News: 1500 पीजीटी शिक्षकों को नियुक्ति पत्र देंगे CM हेमंत सोरेन, प्रभात तारा मैदान में कार्यक्रम कल

Jharkhand News: सीएम हेमंत सोरेन शुक्रवार को 1500 पीजीटी शिक्षकों को राज्य में नियुक्ति पत्र सौंपने जा रहे हैं. रांची के धुर्वा स्थित प्रभात तारा मैदान में सीएम हेमंत सोरेन के नियुक्ति पत्र वितरण कार्यक्रम का आयोजन किया गया है.

author-image
सौम्या सिन्हा
एडिट
New Update
पीजीटी शिक्षकों को नियुक्ति पत्र देंगे CM हेमंत सोरेन

पीजीटी शिक्षकों को नियुक्ति पत्र देंगे CM हेमंत सोरेन

झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन शुक्रवार को 1500 पीजीटी शिक्षकों को राज्य में नियुक्ति पत्र सौंपने जा रहे हैं. रांची के धुर्वा स्थित प्रभात तारा मैदान में सीएम हेमंत सोरेन के नियुक्ति पत्र वितरण कार्यक्रम का आयोजन किया गया है. दोपहर 12:30 बजे से कार्यक्रम की शुरुआत होगी, जिसमें हेमंत सोरेन शिक्षकों के बीच नियुक्ति पत्र बाटेंगे. बता दें कि हेमंत सोरेन से पहले 3 जुलाई को पूर्व सीएम चंपई सोरेन प्रभात तारा मैदान में शिक्षकों को नियुक्ति पत्र देने वाले थे, लेकिन शिक्षा विभाग की ओर से इस कार्यक्रम को स्थगित कर दिया गया था. इसके ठीक दो दिनों के बाद हेमंत सोरेन ने सीएम पद की शपथ ली और अब नियुक्ति पत्र कार्यक्रम में हिस्सा लेने जा रहे हैं.

Advertisment

पूर्व सीएम चंपई सोरेन 3 जुलाई को 1500 प्लस टू शिक्षकों को नियुक्ति पत्र देने वाले थे, जिसको शिक्षा विभाग ने अपरिहार्य कारणों के कारण स्थगित किया था. उस कार्यक्रम की सभी तैयारी पूरी हो चुकी थी.

बता दें कि हेमंत सोरेन कल पीजीटी शिक्षकों को नियुक्ति पत्र देंगे, जिसमें उनके साथ वित्त मंत्री रामेश्वर उरांव, श्रम मंत्री सत्यानंद भोक्ता और शिक्षा मंत्री वैद्यनाथ राम भी शिरकत करेंगे. इस नियुक्ति की प्रक्रिया साल 2022 में झारखंड में शुरू की गई थी, जिसमें 3120 प्लस टू शिक्षकों को नियुक्त करना था. इसके पहले चरण में 1000 शिक्षकों को नियुक्ति पत्र पिछले साल दिया गया था, दूसरे चरण में 3 जुलाई को नियुक्ति पत्र देना था, लेकिन इसे अब 12 जुलाई को आयोजित किया जा रहा है.

मालूम हो कि झारखंड में इस शिक्षक भर्ती पर भी अभ्यर्थियों की ओर से सवाल उठाए जा रहे हैं. दरअसल पिछले साल जेएसएससी ने 11 विषयों की परीक्षा लेने का विज्ञापन जारी किया था. सितंबर में कंप्यूटर बेस्ड परीक्षा का आयोजन किया गया. परीक्षा के रिजल्ट में कुछ सेंटर से सबसे ज्यादा अभ्यर्थी पास हुए हैं, जिसमें बोकारो, रांची के कुछ केंद्र पर परीक्षा में गड़बड़ी का आरोप लगाया जा रहा है. इसके खिलाफ अभ्यर्थियों ने झारखंड में कई बार आंदोलन भी किया. अभ्यर्थियों की मांग है कि सीबीआई जांच होने तक नियुक्ति पत्र वितरण कार्यक्रम पर लोग रोक लगनी चाहिए.

jharkhand news appointment letters to 1500 teachers in Jharkhand Hemant Soren News