77 साल के हुए लालू यादव, चुनाव नतीजों के बाद धूमधाम से मनाया जा रहा जन्मदिन

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव का आज 77वां जन्मदिन है. 11 जून 1948 को बिहार के गोपालगंज में लालू यादव का जन्म हुआ था. लालू यादव के जन्मदिन के लिए राजद कार्यालय से लेकर राबड़ी आवास तक में तैयारियां चल रही है.

New Update
77 साल के हुए लालू

77 साल के हुए लालू

बिहार की राजनीति को देश स्तर पर पहचान दिलाने में लालू प्रसाद यादव का बड़ा योगदान है. आज के समय में भी कई लोग बिहार की राजनीति को लोग लालू यादव से ही पहचानते हैं. बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल के सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव का आज 77वां जन्मदिन है. 11 जून 1948 को बिहार के गोपालगंज में लालू यादव का जन्म हुआ था. लालू यादव के 77वें जन्मदिन को रात 12:00 बजे पटना आवास पर केक काट कर तेज प्रताप यादव ने मनाया. परिवार के साथ लालू यादव के जन्मदिन मनाने की तस्वीर भी सामने आई है, जिसमें तेज प्रताप यादव, रोहिणी आचार्य, राबड़ी देवी समेत बच्चे भी नजर आ रहे है.

Advertisment

अभी-अभी लोकसभा चुनाव खत्म हुए हैं, जिसमें राजद ने अच्छा परफॉर्म किया है. इसके अलावा लालू यादव की बेटी मीसा भारती ने भी इस चुनाव में जीत हासिल की है. ऐसे में लालू यादव के जन्मदिन को बड़े धूमधाम से मनाने की तैयारी की जा रही है. राजद दफ्तर को प्रमुख रूप से सजाया गया है. राबड़ी आवास पर भी जन्मदिन की तैयारियां चल रही हैं, जिसमें कई वरिष्ठ नेता, विधायक भी पहुंचेंगे. इसके अलावा पिता के जन्मदिन के लिए तेजस्वी यादव भी दिल्ली से लौट आए हैं.

रोहिणी आचार्य ने जन्मदिन की दी शुभकामनाएं

अपने पिता के जन्मदिन पर शुभकामनाएं लिखते हुए रोहिणी आचार्य ने एक्स पर लिखा- आप जैसे विराट व्यक्तित्व की बेटी होना मेरा सौभाग्य है,बचपन से ही आपने मुझे जीवन को जीने,इंसानियत,प्यार,त्याग और मेहनत का सच्चा मतलब सिखाया है. मैं आपकी गोद में खेली,आपकी उंगली पकड़ कर चलना सीखा,यही मेरे हिस्से का दैवीय आशीर्वाद है,आपको जन्मदिन की ढेरों शुभकामनाएं पापा.

लालू यादव ने अपनी शुरुआती पढ़ाई गोपालगंज से ही की. इसके बाद पढ़ाई के लिए वह पटना चले आए, जहां से उन्होंने ग्रेजुएशन और एमए किया. पटना विश्वविद्यालय के बीएन कॉलेज से लालू यादव ने राजनीति विज्ञान में ग्रेजुएशन किया और उसके बाद बिहार पशु चिकित्सा कॉलेज में क्लर्क के रूप में भी काम किया. पढ़ाई के दौरान ही वह जेपी के छात्र आंदोलन से जुड़ गए और इमरजेंसी के दौरान छात्र नेता के तौर पर अपनी पहचान बनाई. बिहार की राजनीति में लालू यादव का कद काफी ऊंचा माना जाता है. 1990 से 1997 तक लालू बिहार के मुख्यमंत्री रहे और साल 2004 से 2009 तक यूपीए की सरकार में रेल मंत्री रहे. हालांकि अपने कार्यकाल के दौरान कई घोटालों का भी आरोप लालू यादव पर है.

tejashwi yadav news Lalu Yadav birthday Lalu Yadav turns 77 misa bharti won patliputra